भूपेन हजारिका पर टिप्पणी कर बुरे फंसे कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, केस दर्ज

0
2
New Delhi: Congress Parliamentary Party leader Mallikarjun Kharge addresses the media persons at AICC Headquarters, in New Delhi, Thursday, Oct 25, 2018. (PTI Photo/Arun Sharma)(PTI10_25_2018_000080A)

भारत के सर्वोच्च नागरिकता सम्मान ‘भारत रत्न’ को लेकर जारी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। दिग्गज गायक-संगीतकार भूपेन हजारिका को मिले भारत रत्न को लेकर कथित टिप्पणी करना कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को भारी पड़ गया। असम पुलिस ने हजारिका पर कथित टिप्पणी को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

पीटीआई फाइल फोटो।

अधिकारियों ने रविवार को बताया कि आरटीआई कार्यकर्ता राजू महंत की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया। महंत ने आरोप लगाया कि खड़गे ने असमी लोगों की भावनाओं को आहत किया है। रिपोर्ट के मुताबिक, खड़गे ने लिंगायत समुदाय के आध्यात्मिक नेता शिवकुमार स्वामी को भारत रत्न न देने और इसके बजाय गायक भूपेन हजारिका और आरएसएस की विचारधारा का प्रचार करने वाले नानाजी देशमुख को भारत रत्न देने पर शनिवार को केंद्र की आलोचना की थी।

बता दें कि शिवकुमार स्वामी का हाल ही में निधन हो गया था। मोरीगांव जिले के पुलिस अधीक्षक स्वप्निल डेका ने बताया कि मोरीगांव थाने में मल्लिकार्जुन खड़गे के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। मध्य असम के सामाजिक-सांस्कृतिक संगठन ‘सहाई’ के अध्यक्ष महंत ने पत्रकारों को बताया कि कांग्रेस नेता की टिप्पणी आपत्तिजनक है। इससे असम और उसके लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं, इसलिए उन्होंने मामला दर्ज कराया है। उन्होंने खड़गे से माफी की मांग की।

गौरतलब है कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रसिद्ध संगीतकार भूपेन हजारिका, एवं आरएसएस से जुड़े नेता एवं समाजसेवी नानाजी देशमुख को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया जाएगा। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने 25 जनवरी की शाम इन तीनों हस्तियों को भारत रत्न दिए जाने की घोषणा की थी। नानाजी देशमुख एवं भूपेन हजारिका को यह सम्मान मरणोपरांत प्रदान किया जाएगा।

इस घोषणा के साथ ही राजनीति-सामाजिक जगत की हस्तियों ने इसका स्वागत किया है। भूपेन हजारिका पूर्वोत्तर राज्य असम से ताल्लुक रखते थे। अपनी मूल भाषा असमिया के अलावा भूपेन हजारिका हिंदी, बंगला समेत कई अन्य भारतीय भाषाओं में गाना गाते रहे थे। उनहोने फिल्म “गांधी टू हिटलर” में महात्मा गांधी का पसंदीदा भजन “वैष्णव जन” गाया था। उन्हें पद्मभूषण सम्मान से भी सम्मानित किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here