महाराष्ट्र के एक किसान की मजबूरी, 952 किलो प्याज बेच कर कमाया सिर्फ 1 रुपया मुनाफा

0

थोक बाज़ार में प्याज की गिरती कीमतों से परेशान एक किसान ने अपनी व्यथा सुनाते हुए कहा है कि महाराष्ट्र के लासलगांव की जिला कृषि उत्पाद विपणन समिति (एपीएमसी) में लगभग एक टन प्याज बेचकर वह बस एक रुपया ही कमा पाया।

onions

एनडीटीवी इंडिया के मुताबिक 48 साल के किसान देवीदास परभाने का कहना है कि प्याज की कीमतों में गिरावट का असर उस जैसे कई किसानों पर पहले ही दिख रहा है। दूसरे किसानों ने भी इस साल बंपर फसल के बावजूद औने पौने दाम वाले सौदे किए हैं। परभाने ने कहा, ‘हर दिन हम सूखा प्रभावित इलाकों में किसानों द्वारा आत्महत्या के समाचार सुन रहे हैं। हालांकि, प्याज की कीमतों के इस निचले स्तर तक आने के बाद मेरे जैसे किसानों का भी यही हश्र हो सकता है।’

किसान देवीदास परभाने के मुताबिक उसने दो एकड़ जमीन में 80,000 रुपये खर्च करके प्याज उगाया।10 मई को उसने 952 किलो प्याज एक ट्रक में लादकर पुणे स्थित एपीएमसी पहुंचाया। प्रति दस किलो प्याज के लिए उसे 16 रुपये मिले। यानी एक रुपया साठ पैसे प्रति किलो का भाव मिला।’ परभाने ने कहा, ‘प्याज की कुल कीमत 1523.20 रुपये मिली, इसमें से बिचौलिये ने 91.35 रुपये कमीशन लिया, श्रमिक शुल्क 59 रुपये रहा। इसके अलावा 18.55 रुपये और 33.30 रुपये विशिष्ट शुल्क के रूप में दिए गए। इसके अलावा 1320 रुपये ट्रक ड्राइवर ने लिए जो प्याज लेकर लासलगांव गया था। इस तरह कुल मिलाकर 1522.20 रुपये खर्च हो गए।’ किसान ने कहा कि सभी कटौतियों के बाद उसके पास केवल एक रुपया ही बचा।

LEAVE A REPLY