तमिलनाडु के पूर्व CM और DMK चीफ करुणानिधि का 94 साल की उम्र में निधन

0

तमिलनाडू के पूर्व मुख्यमंत्री और तमिल राजनीत के दिग्गज नेताओं में से एक द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) प्रमुख एम करुणानिधि का मंगलवार (7 अगस्त) शाम को देहांत हो गया। वह 94 वर्ष के थे। चेन्नई के कावेरी अस्पताल में उन्होंने आखिरी सांस ली। बता दें कि करुणानिधि को 28 जुलाई को देर रात तबीयत खराब होने की वजह से चेन्नई के कावेरी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके लिए अस्पताल में स्पेशल आईसीयू सेटअप किया गया था।

डीएमके चीफ करुणानिधि के निधन के मामले में कावेरी अस्पताल का बयान आया है। बयान में बताया गया है कि शाम 6 बजकर 10 मिनट पर उनका निधन हुआ। अस्पताल के मुताबिक तमाम कोशिशों के बावजूद डीएमके प्रमुख को बचाया नहीं जा सका।

करुणानिधि के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शोक व्यक्त किया है। करुणानिधि के शव को गोपालपुरम ले जाया जाएगा। जहां बुधवार सुबह राजाजी हॉल में अंतिम दर्शन के लिए उनके शव को रखा जाएगा।चेन्नई के कावेरी अस्पताल के बाहर भी डीएमके कार्यकर्ताओं और समर्थकों की भीड़ एक बार फिर से एकत्रित होने लगी है।

करुणानिधि के निधन की खबर के बाद समर्थक रो रहे हैं। वहीं, पुलिस को भी हाई अलर्ट पर रहने को कहा गया है।बता दें कि द्रविड़ आंदोलन की उपज एम करुणानिधि अपने करीब 6 दशकों के राजनीतिक करियर में ज्यादातर समय राज्‍य की सियासत का एक ध्रुव बने रहे।

अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉक्टर अरविन्दन सेल्वाराज की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘हमें बड़े दुख के साथ बताना पड़ रहा है कि हमारे प्रिय कलैंग्नर एम. करूणानिधि का सात अगस्त, 2018 को शाम छह बजकर 10 मिनट पर निधन हो गया। डॉक्टरों और नर्सों की हमारी टीम के सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका।’’

विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘हम भारत के कद्दावर नेताओं में से एक के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हैं और परिवार के सदस्यों तथा दुनिया भर में बसे तमिलवासियों का दुख साझा करते हैं।’’ करूणानिधि का रक्तचाप कम होने के बाद 28 जुलाई को उन्हें गोपालपुरम स्थित आवास से कावेरी अस्पताल भेजा गया था। पहले वह वार्ड में भर्ती थे, बाद में हालत बिगड़ने पर उन्हें आईसीयू में भर्ती किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here