जनता पर महंगाई की मार, सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर सात रुपये हुआ महंगा

0

देश में लगातार बढ़ती महंगाई की मार झेल रहें आम आदमी पर महंगाई का बोझ और बढ़ गया है। तेल विपणन कंपनियों ने सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर एलपीजी में 7 रुपए प्रति सिलेंडर और गैर सब्सिडी वाले सिलेंडर में 74 रुपए तक की भारी बढ़ोत्तरी की है।

गैस सिलेंडर

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार ने यह कदम इसलिए उठाया है, क्‍योंकि वह अगले साल मार्च तक एलपीजी सिलेंडर पर सब्सिडी पूरी तरह खत्‍म करना चाहती है। इससे पहले एक अगस्त को तेल कंपनियों ने 2.31 रुपये प्रति सिलेंडर की वृद्धि की थी इसलिए इसको बराबरी पर लाने के लिए इस बार ज्यादा वृद्धि की गई है।

देश की सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल कारपोरेशन के अनुसार सब्सिडी वाले 14.2 किलोग्राम के एलपीजी सिलेंडर की नई कीमत दिल्ली में 487.18 रुपये हो गई है जो पहले 479.77 रुपये थी।

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने 31 जुलाई को लोकसभा में कहा था कि सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र की सभी पेट्रोलियम कंपनियों से कहा है कि अगले साल मार्च के अंत तक सभी तरह की सब्सिडी को खत्म करने के लिए वे हर महीने रसोई गैस सिलेंडर के दाम 4 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ाएं।

गौरतलब है कि, प्रत्‍येक परिवार को एक साल में 12 सिलेंडर ही सब्सिडी पर दिए जाने का प्रावधान है। इस सीमा के खत्‍म होने के बाद बाजार मूल्‍य पर एलपीजी सिलेंडर खरीदना होगा।

उल्लेखनीय है कि देश में 1 जुलाई तक 18.11 करोड़ एलपीजी मे उपभोक्ताओं में से करीब 2.6 करोड़ गरीब उपभोक्ता हैं जिन्हें प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के दौरान पिछले वर्ष एक के दौरान एलपीजी कनेक्शन दिया गया है। वहीं सब्सिडी का लाभ उठाने वाले उपभोक्ताओं की संख्या 2.66 करोड़ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here