झटका: फिर महंगी हुई LPG, डेढ़ रुपये बढ़े घरेलू गैस सिलेंडर के दाम, हवाई सफर भी हो सकता है महंगा

0

मोदी सरकार ने रविवार(1 अक्टूबर) को आम आदमी को झटका देते हुए अगले साल मार्च तक रसोई गैस (एलपीजी) पर सब्सिडी खत्म करने की पहल के तहत एक बार फिर घरेलू गैस के दाम बढ़ा दिए गए हैं। इसके साथ ही हवाई सफर करना भी महंगा हो सकता है।गैस सिलेंडरजी हां, सरकार ने रविवार को सब्सिडी वाले घरेलू गैस (एलपीजी) के दाम 1.50 रुपये प्रति सिलेंडर और विमान ईंधन एटीएफ के दाम छह प्रतिशत बढ़ा दिए। सरकार ने एलपीजी पर सब्सिडी मार्च तक समाप्त करने के लिए हर महीने इसकी कीमतों में बढ़ोतरी का फैसला किया है।

आईओसी ने कहा कि इससे पहले 1 सितंबर को एलपीजी का दाम सात रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ाया गया था। बिना सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर का दाम भी डेढ़ रुपये बढ़ाकर 599 रुपये कर दिया गया है। एटीएफ में बढ़ोतरी अगस्त से जेट ईंधन कीमतों में लगातार तीसरी है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल कीमतों में मजबूती की वजह से यहां भी एटीएफ के दाम बढ़े हैं।

बता दें कि सरकार ने एलपीजी पर सब्सिडी समाप्त करने के लिए हर महीने इसकी कीमतों में बढ़ोतरी का फैसला किया है। आईओसी ने कहा कि दिल्ली में 14.2 किलोग्राम के सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर का दाम अब 488.68 रुपये होगा। अभी तक यह 487.18 रुपये है।

अगले साल से सब्सिडी मिलना बंद

दरअसल, अगले साल अप्रैल से एलपीजी सिलेंडर पर सब्सिडी पूरी तरह खत्म हो जाएगी। यह जानकारी खुद पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने 31 जुलाई को लोकसभा में दी है। प्रधान ने लोकसभा में एक सवाल के जवाब में बताया था कि सरकार ने 30 मई को तेल कंपनियों को निर्देश दिया कि वे सिलेंडर के दाम में हर माह चार रुपये का इजाफा करें। ये इजाफा मार्च 2018 तक या फिर अगले आदेश तक जो भी पहले हो जारी रखा जाएगा।

प्रधान ने बताया था कि सरकार का लक्ष्य 31 मार्च 2018 एलपीजी सब्सिडी पूरी तरह खत्म करना है। प्रधान ने बताया था कि पिछले वर्ष तेल कंपनियों को हर महीने दो रुपये प्रति सिलेंडर की मूल्य बढ़ोतरी करने की इजाजत दी गई थी। अब जून, 2017 में तेल कंपनियों को नया निर्देश दिया गया है कि वे अब हर महीने चार रुपये की बढ़ोतरी करे।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here