गुजरात: लॉकडाउन लागू करा रही पुलिस पर स्थानीय लोगों ने किया पथराव, पुलिसकर्मी घायल, कई हिरासत में

0

कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में शामिल स्वास्थ्यकर्मियों और सुरक्षाकर्मियों के साथ हो रहीं हिंसा थमने का नाम ही नहीं ले रही हैं, जिसका ताजा मामला एक बार फिर से देखने को मिला है। गुजरात के सूरत शहर के एक इलाके में मंगलवार सुबह लॉकडाउन लागू कराने की कोशिश कर रहे सुरक्षा कर्मियों पर कुछ स्थानीय लोगों ने कथित तौर पर पत्थर फेंके। एक अधिकारी ने बताया कि इस घटना में एक पुलिसकर्मी घायल हो गया।

गुजरात
फाइल फोटो

सूरत के पुलिस उपायुक्त आर पी बरोत ने बताया कि पुलिसकर्मियों पर हमला करने के आरोप में पांच लोगों को हिरासत में लिया गया है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस प्रकोप के मद्देनजर डिंडोली इलाके में एक स्थान पर बंद को प्रभावी बनाने के लिए पीसीआर वैन के पहुंचने पर कुछ स्थानीय लोग भड़क गए।

बरोत ने कहा, “हमें जब पता चला कि इलाके में लोग घूम रहे हैं और बंद के नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं तो हमने वहां एक पीसीआर वैन भेजी। पुलिस ने जब लोगों से घर के भीतर रहने को कहा तो कुछ लोग भड़क गए और उन्होंने पुलिसकर्मियों पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए।”

उन्होंने बताया कि घटना में एक पुलिसकर्मी को चोट आई है। बरोत ने बताया कि पांच लोगों को हिरासत में लिया गया है। साथ ही कहा कि इलाके में अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया है और स्थिति नियंत्रण में है।

बता दें कि, सरकार ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में शामिल स्वास्थ्यकर्मियों और सुरक्षाकर्मियों के साथ हिंसा को गैर जमानती अपराध बनाया है। साथ ही ऐसा करने वाले को सात साल की सजा हो सकती है। लेकिन इसके बाद भी सुरक्षाकर्मियों पर हमले रूक नहीं रहे है। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here