गुजरात : स्थानीय निकाय चुनाव में कांग्रेस को लाभ

0

गुजरात के स्थानीय निकाय चुनावों में कांग्रेस को ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों में लाभ हुआ है। लेकिन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सभी छह नगरगिगमों पर अपना कब्जा बरकरार रखा है। भाजपा ने वड़ोदरा, सूरत, राजकोट, भावनगर, जामनगर और अहमदाबाद नगर निगमों में जीत हासिल कर ली है, जहां 22 और 29 नवम्बर को चुनाव कराए गए थे।

Also Read:  दिल्ली मेट्रो में सफर करना होगा महंगा, जानिए किराये में कितना रुपये की हो सकती है बढ़ोतरी

हालांकि राजकोट नगर निगम में भाजपा केवल एक सीट से आगे रही।

31 जिला पंचायतों वाले अर्ध-शहरी और ग्रामीण इलाकों में कांग्रेस ने 21 और भाजपा ने 10 स्थानों पर जीत दर्ज की है।

2010 में भाजपा ने 30 जिला पंचायतों पर कब्जा जमाया था, जबकि कांग्रेस को केवल एक सीट ही मिली थी।

Also Read:  मन की बात: PM मोदी बोले- योग दिवस पर परिवारों की तीन पीढ़ियां एक साथ करें योग, पढ़िए- खास बातें

पिछले वर्ष गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद गुजरात की सत्ता आंनदीबेन पटेल के हाथ में आने के बाद यह सत्ता परीक्षण का पहला मौका है।

मोदी के गुजरात छोड़ने के बाद इन चुनावों को काफी अहम माना जा रहा था और इसे गुजरात विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल कहा जा रहा था।

Also Read:  गन स्टोर का विवादास्पद विज्ञापन, लिखा 'मुस्लिमों और क्लिंटन समर्थकों को हथियार नहीं बेचते' आतंकवादियों को हथियार बेचने में नहीं महसूस करते सुरक्षित

नौकरी और शिक्षा में आरक्षण की मांग को लेकर पटेल समुदाय के विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर भी यह राज्य में पहला चुनाव था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here