भारत- पाक तनाव ने टीवी कार्यक्रमों के प्रसारण का एयरटाइम युद्ध छेडा

0

पाकिस्तान ने सोमवार (3 अक्टूबर) को कहा कि वह भारतीय चैनलों के प्रसारण के लिए उतना ही समय देगा, जिनता कि उसके चैनलों को उसने दिया है। इसके साथ ही, पाकिस्तानी चैनलों पर लोकप्रिय भारतीय धारावाहिकों और फिल्मों के प्रसारण में छूट के मुशर्रफ काल के नियम को पलट दिया।

Also Read:  RBI ने एक बार फिर से जारी किया 500 रुपये के नए नोट, जानिए क्या है इसकी ख़ासियत

भाषा की खबर के अनुसार, पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेगुलेटरी ऑथरिटी (पीईएमआरए) ने उरी हमला और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकी शिविरों पर भारत के लक्षित हमले (सर्जिकल स्ट्राइक) के बाद भारत-पाक संबंधों में आए तनाव के बीच यह घोषणा की।

Also Read:  जब नीतीश कुमार ने जीएसटी के लिए स्‍पेशल ऑफर के साथ वित्त मंत्री अरुण जेटली को किया फोन

यहां हुई संस्था के 119 वें सत्र में इसने फैसला किया कि यदि भारत ने पाकिस्तानी कार्यक्रमों के प्रसारण को इजाजत दी तभी पीईएमआरए भारतीय कार्यक्रमों के प्रसारण की इजाजत देगा। पीईएमआरए नियमों के मुताबिक स्थानीय चैनल सिर्फ पांच फीसदी विदेशी कार्यक्रम दिखा सकते हैं लेकिन कई पाकिस्तानी चैनल विदेशी कार्यक्रमों पर निर्भर हैं जिनमें ज्यादातर भारत, तुर्की, अमेरिका, यूरोप के हैं।

Also Read:  Shaan feels Pakistani artistes won't be missed much

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here