बिहार में बेलगाम बदमाशों का आतंक, घर में घुसकर LIC एजेंट की गोली मारकर हत्या

0

बिहार में आए दिन मॉब लिंचिंग और अपराध की सनसनीखेज घटनाओं ने ये सवाल खड़ा कर दिया है कि क्या नीतीश-मोदी सरकार बनने के बाद बिहार में फिर से जंगलराज लौट आया है? यह सवाल इसलिए उठ रहा है, क्योंकि बिहार के समस्तीपुर जिले के सरायरंजन थाना क्षेत्र में गुरुवार तड़के अपराधियों ने घर में घुसकर भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के एक एजेंट की गोली मारकर हत्या कर दी और फरार हो गए। हत्या के कारणों का अब तक पता नहीं चल सका है।

जम्मू-कश्मीर
प्रतिकात्मक फोटो

पुलिस के मुताबिक, रायपुर बुजुर्ग गांव निवासी संजय कुमार सुबह अपने ही घर में बाहर बरामदे में अकेले बैठे थे कि अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी, जिससे घटनास्थल पर ही मौत हो गई। संजय एलआईसी एजेंट का काम करते थे। बता दें कि राज्य में लागातार कई महीनों से आपराधिक घटनाएं सामने आ रही हैं।

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, सरायरंजन के थाना प्रभारी संजीव कुमार चौधरी ने बताया कि हत्या के कारणों का अब तक पता नहीं चल पाया है और ना ही किसी ने अपराधियों को आते-जाते देखा है। उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंच कर पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है तथा शव को पोस्टमार्टम के लिए स्थानीय अस्पताल भेज दिया गया है। इधर, दिनदहाड़े घर में घुसकर हुई इस हत्या के बाद गांव के लोगों में गुस्सा है।

नालंदा में नाबालिग समेत दो लोगों को पीट पीटकर मार डाला

वहीं, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के दीपनगर थाना क्षेत्र में बुधवार (2 जनवरी) को हिंसा भड़क उठी। स्थानीय राजद नेता की हत्या से गुस्साई भीड़ ने नाबालिग समेत दो लोगों को पीट पीटकर मार डाला और एक को बुरी तरह घायल कर दिया। सुबह राजद नेता व व्यवसायी इंदल पासवान का शव बरामद होने के बाद आक्रोशित लोगों ने तीन संदिग्धों की बुरी तरह पिटाई कर दी, जिनमें एक नाबालिग भी शामिल था। जिससे नाबालिग सहित दो लोगों की मौत हो गई, जबकि एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया।

पुलिस ने बताया कि राजद के अनुसूचित जाति-जनजाति प्रकोष्ठ के पदाधिकारी इंदल पासवान पर अज्ञात हमलावरों ने घात लगाकर हमला किया और गोली मार दी। वह एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद मंगलवार को जिले के दीप नगर पुलिस थाना क्षेत्र में मगंडा सराय गांव में स्थित अपने घर लौट रहे थे। सूत्रों ने पीटीआई को बताया कि जब वह रात तक घर नहीं लौटे तब उनके परिजनों ने स्थानीय थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई और तलाशी के दौरान नजदीक के खेतों से उनका गोलियों से छलनी शव पाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here