केजरीवाल का उप-राज्यपाल पर हमला, बोले- ‘मुझे हर दिन एक गोली मारते हैं LG’

0

दिल्ली के नए उप-राज्यपाल अनिल बैजल के नियुक्ति के बाद उम्मीद थी कि केजरीवाल सरकार और एलजी के बीच टकराव समाप्त हो जाएगा। उप-राज्यपाल तो बदल गए, लेकिन दिल्ली सरकार और एलजी सचिवालय के बीच एक बार फिर दोनों के बीच विवाद शुरू हो गया है।

केजरीवाल
FILE PHOTO

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार(22 अप्रैल) को उप-राज्यपाल अनिल बैजल पर निशाना साधते हुए कहा कि वह हर दिन मुझे ‘एक गोली’ मारते हैं। बैजल के उप राज्यपाल बनने के बाद अरविंद केजरीवाल का उनपर यह पहला सीधा हमला है।

केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार विकास के विभिन्न मुद्दों पर समन्वय की कोशिश कर रही है, लेकिन उप-राज्यपाल और केंद्र ने एमसीडी चुनाव से ठीक पहले उनपर गोलियां बरसानी तेज कर दी हैं। उन्होंने कहा कि हमने बैजल के साथ अच्छे संबंध बना रखे हैं।

Also Read:  इटली के सुप्रीम कोर्ट ने कहा, अगर आप भूखे है तो खाना चुराना अपराध नहीं

उन्होंने कहा कि पहले तीन महीने उन्होंने हमारे साथ सहयोगात्मक तरीके से काम किया। हमने एमसीडी चुनावों से पहले एक भी शब्द उनके खिलाफ नहीं कहा है, उनके द्वारा हर दिन हमें एक गोली मारे जाने के बावजूद हमने उनके खिलाफ कुछ नहीं बोला है। बताइए कि हमारी क्या गलती है?

केजरीवाल ने आगे कहा कि हम केंद्र से लेकर उप-राज्यपाल सभी के साथ सहयोग की कोशिश कर रहे हैं, ताकि दिल्ली में विकास हो सके, लेकिन उप-राज्यपाल हर दिन मुझ पर एक गोली छोड़ रहे हैं। केजरीवाल ने शुंगलू कमिटी की रिपोर्ट को भी राजनीति से प्रेरित करार दिया है।

Also Read:  सोनू निगम के बयान के जवाब में PM मोदी, सोनिया गांधी, सलमान खान और प्रियंका चोपड़ा का यह वीडियो हो रहा वायरल

केजरीवाल ने इस दौरान बीजेपी पर भी आरोप लगाया और दावा किया कि यह एक गैर-लोकतांत्रिक और असंवैधानिक पार्टी है जिसका मकसद विधायकों को खरीदकर, दूसरी पार्टी को तोड़कर और उप राज्यपाल का इस्तेमाल कर विपक्षी पार्टी की सरकार को तोड़ना है।

बता दें कि पिछले उप-राज्यपाल नजीब जंग के साथ भी केजरीवाल सरकार का छत्तीस का आंकड़ा था। हालांकि, अनिल बैजल के उप-राज्यपाल बनने के बाद एक-दो मामलों को छोड़ दें तो कुछ दिनों तक कोई टकराव नहीं हुआ। बैजल ने पिछले महीने 29 मार्च को दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव एमएम कुट्टी को आम आदमी पार्टी से विज्ञापन मद में खर्च हुए 97 करोड़ रुपये वसूलने के निर्देश दिए थे।

Also Read:  जब PM मोदी ने पूछा- आखिर मुझसे इतनी नफरत क्यों है? तो इस शख्स ने बताई 22 वजह, सोशल मीडिया पर वायरल हुई पोस्ट

इसके अलावा अनिल बैजल ने पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल के परिवार को 1 करोड़ रुपये मुआवजा देने की केजरीवाल सरकार के प्रस्ताव को खारिज करते हुए फाइल लौटा दी थी। फाइल लौटाते हुए उप-राज्यपाल ने कहा कि राम किशन ग्रेवाल दिल्ली के नागरिक नहीं है, बल्कि वह हरियाणा के रहने वाले हैं, इसलिए मुआवजा नहीं मिल सकता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here