‘रुस्तम’ में पहनी गई सैन्य वर्दी की नीलामी पर विवाद, अक्षय कुमार और ट्विंकल खन्ना को सेना के अफसरों ने भेजा लीगल नोटिस

0

फिल्म ‘रुस्तम’ में पहनी गई सेना की वर्दी की नीलामी किए जाने को लेकर बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार और उनकी पत्नी टि्वंकल खन्ना मुश्किलों में घिर गए हैं। दरअसल, ‘रुस्तम’ फिल्म में अक्षय ने नौसेना अधिकारी की भूमिका निभाई थी। इसमें उन्होंने जो यूनिफॉर्म पहनी थी अब उसकी नीलामी की जा रही है। वर्दी की नीलामी किए जाने की खबर पर सैन्य अधिकारियों की ओर से तीखी प्रतिक्रिया आई है।

File Photo: DNAIndia.com

इसको लेकर डिफेंस के 21 सेवारत और सेवानिवृत्त अधिकारियों और जवानों ने अक्षय कुमार, टि्वंकल खन्ना और ऑक्शन हाउस को कानूनी नोटिस भेजकर अविलंब नीलामी रोकने को कहा है। ऐसा न करने पर कानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी है। रिपोर्ट के मुताबिक, नोटिस भेजने वालों में 21 लोगों का नाम ​शामिल है। इनमें सेना के लेफ्टिनेंट कर्नल संजय अहलावत की अगुवाई में 11 सर्विंग, सात रिटायर्ड अफसर और दो अधिकारियों की पत्नियों का नाम शामिल है। नोटिस में अक्षय और ट्विंकल से कहा गया है कि वह इस वर्दी की नीलामी को तुरंत रोक दें।

इन अधिकारियों का कहना है कि यूनिफॉर्म सशस्त्र बलों के ड्रेस से मिलते हैं, ऐसे में नीलामी करने से इसके राष्ट्रविरोधी ताकतों के हाथ में जाने का खतरा है। इसका इस्तेमाल नई समस्या खड़ी करने में भी किया जा सकता है। नोटिस में बॉलीवुड स्टार पर आरोप लगाया है कि पोशाक की नीलामी का राष्ट्रीय हित से कोई संबंध नहीं है। यही नहीं ऐसा कर अापने सशस्त्र बल कर्मियों, उनकी विधवाओं और उनके परिजनों की भावनाओं के साथ भी खिलवाड़ किया है।

नोटिस में पठानकोट हमले का भी हवाला दिया गया है। इसमें कहा गया है, ‘पठानकोट हमले के बाद इंडियन आर्मी ने दिशा-निर्देश जारी कर आमलोगों से सशस्त्र बलों के यूनिफॉर्म से मिलते-जुलते ड्रेस न पहनने की अपील की थी। दुकानदारों से भी ऐसे कपड़े, यूनिफॉर्म और उपकरण न बेचने को कहा गया था, क्योंकि ऐसा करना अवैध होगा। लिहाजा, नौसेना के यूनिफॉर्म को नीलामी के लिए रखकर आपने राष्ट्रीय हित का निरादर और सशस्त्र बलों के जवानों की भावनाओं को ठेस पहुंचाया है।’

गौरतलब हो कि अक्षय कुमार ने फिल्म ‘रुस्तम’ में पहनी हुई नेवी ऑफिसर की यूनिफॉर्म नीलामी के लिए दी थी। सिर्फ 24 घंटे में इस ड्रेस के लिए 20,000 रुपये की बोली लगाई गई। इसके बाद ये कीमत 20 हजार से ढाई करोड़ तक पहुंच गई। मुंबई के फंड रेजिंग प्लेटफॉर्म सॉल्टस्काउट के माध्यम से यह बोली लगवाई गई थी। इस नीलामी से मिलने वाले पैसे को एक ऐनिमल वेलफेयर ट्रस्ट की मदद की जानी थी। यह नीलामी पूरे एक महीने तक चलने वाली थी, लेकिन अब यह मामला कानूनी विवाद में आ गया है।

अक्षय कुमार ने यह घोषणा अपने सोशल साइट पर की थी, ताकि उससे मिले पैसों का इस्तेमाल नेक काम में किया जा सके। ट्विंकल खन्ना ने भी अपने पति के इस ट्वीट को रीशेयर किया, जिसकी कुछ यूज़र ने आलोचना भी की थी। वर्दी की नीलामी के फैसले पर ऐतराज जताते हुए ऑफिसर संदीप अहलावत ने कहा था कि यह महज एक यूनिफॉर्म नहीं, बल्कि सम्मान और बलिदान है। इसलिए अगर अक्षय कुमार ने इसे नीलाम करने की कोशिश की तो वह उन्हें कोर्ट में घसीटेंगे।

हालांकि, अक्षय और ट्विंकल ने दावा किया कि वर्दी की नीलामी से होने वाली कुल आय का 90 फीसदी इस्तेमाल सामाजिक कार्यों में किया जाएगा। यह राशि गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) जेनाइस ट्रस्ट को दी जाएगी। बॉलीवुड कपल के मुताबिक, महाराष्ट्र में पंचगनी स्थित जेनाइस ट्रस्ट, एनिमल रेस्क्यू का काम करती है। वह इस राशि का इस्तेमाल जानवरों को बचाने, उनका इलाज करने और उन्हें आश्रय देने के कामों में खर्च करेगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here