लता मंगेशकर पर राष्ट्रगान को गलत उच्चारण से गाने का आरोप, गृह मंत्रालय को भेजी गई शिकायत

0
13 अगस्त 2016 को डीडी नेशनल पर सुबह 11 बजे राष्ट्रगान प्रसारित किया गया था। जिसमें लता मंगेशकर, आशा भोंसले और ए.आर रहमान सहित कई दिग्गज गायकों ने इसे प्रस्तुत किया था।
राष्ट्रगान के गलत उच्चारण और तय समय से अधिक अवधि में गाए जाने की वजह से लता मंगेशकर, आशा भोंसले और ए.आर रहमान पर राष्ट्रगान के अनादर का आरोप लगा है।
लता मंगेशकर
आपको बता दे कि राष्ट्रगान के प्रति किसी भी प्रकार का अनादर देश का अपमान माना जाता हैं। राष्ट्रगान के नियमों के मुताबिक इस मूल स्वरूप में गाते वक्त 52 सेकेंड में पूरा किया जाता चाहिए।
50 सेकेंड से कम और एक मिनट से ज्यादा में राष्ट्रगान का अनादर समझा जाता है, और यदी राष्ट्रगान के मूल स्वरूप से और शब्दों से छेड़छाड़ की गई तो वह भी अपराध माना जाता है।
दैनिक भास्कर की खबर के अनुसार, शिकायतकर्ता उल्हास पीआर ने बताया कि 13 अगस्त 2016 को डीडी नेशनल पर सुबह 11 बजे राष्ट्रगान प्रसारित हुआ।
लता मंगेशकर, आशा भोंसले और ए.आर रहमान समेत कई गायकों ने इसे गाया। आरोप है कि इन्होंने राष्ट्रगान तय समय से अधिक में गाया और कई शब्दों का गलत उच्चारण भी किया। उल्हास की शिकायत पर गृह मंत्रालय ने पत्र भेजकर बताया है कि उनकी शिकायत सुप्रीम कोर्ट के रजिस्ट्रार को भेजी गई है।

इस तरह के आरोप साबित होने पर दोषी व्यक्ति को छह महीने की कैद और जुर्माने की सजा का प्रावधान है। जबकि राष्ट्रगान गलत गाने वाला आरोपी अगर अपराध को स्वीकार कर अदालत में माफी मांग लेता है तो कोर्ट उसे माफ भी कर सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here