चारा घोटाला: दोषी करार दिए जाने के बाद लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट कर BJP पर बोला हमला

0

बहुचर्चित चारा घोटाले के एक और मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को अदालत ने दोषी करार दिया है। रांची स्थित केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत ने शनिवार (23 दिसंबर) को फैसला सुनाया। 950 करोड़ रुपये के चारा घोटाले से जुड़े देवघर कोषागार से 89 लाख, 27 हजार रुपये की अवैध निकासी के मामले में सभी दोषियों को अगले साल 3 जनवरी 2018 को सजा सुनाई जाएगी।

PHOTO: PTI

हालांकि कोर्ट ने 22 आरोपियों में से लालू यादव समेत 15 लोगों को दोषी ठहराया गया है, जबकि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा समेत 7 आरोपियों को कोर्ट ने बरी कर दिया है। गौरतलब है कि इस घोटाले से जुड़े एक मामले में 2013 में निचली अदालत ने लालू को दोषी करार दिया था।

कोर्ट से लालू प्रसाद यादव को सीधे जेल ले जाया जाएगा। अब 3 जनवरी तक फिलहाल लालू यादव को जेल में ही रहना होगा। रांची स्थिति सीबीआई के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह ने फैसला सुनाया है। शिवपाल सिंह की सीबीआई कोर्ट ने इस मामले में सभी पक्षों के गवाहों के बयान दर्ज करने और बहस के बाद अपना फैसला 13 दिसंबर को सुरक्षित रख लिया था।

लालू ने ट्वीट कर बीजेपी पर साधा निशाना

कोर्ट से दोषी करार दिए जाने बाद लालू यादव के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से सिलसिलेवार ट्वीट कर बीजेपी पर हमला किया गया है। एक ट्वीट में लालू ने कहा, “धूर्त भाजपा अपनी जुमलेबाज़ी व कारगुज़ारियों को छुपाने और वोट प्राप्त करने के लिए विपक्षियों का पब्लिक पर्सेप्शन बिगाड़ने के लिए राजनीति में अनैतिक और द्वेष की भावना से ग्रस्त गंदा खेल खेलती है।”

वहीं एक अन्य ट्वीट में लालू ने लिखा, “झूठे जुमले बुनने वालों सच अपनी ज़िद पर खड़ा है।धर्मयुद्ध में लालू अकेला नहीं पूरा बिहार साथ खड़ा है।”

इसके अलावा बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व लालू के बेटे तेजस्वी तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा, “लालू जी जिस वर्ण और ग़रीबी में पैदा हुए और जिस संघर्ष के दम पर सत्ता के स्थापित गलियारों को अपने दमख़म से हिलाया वहीं सबसे बड़ा घोटाला है और उसी की सज़ा भुगत रहे है। समझें!”

वहीं दूसरे ट्वीट में तेजस्वी ने लालू के समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए लिखा, “सभी पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील करता हूँ कि वो शांति बनाए रखते हुए न्यायालय के फ़ैसले का सम्मान करें। सत्य को कोई नहीं हरा सकता। हमारी जीत होगी और ज़रूर होगी। अपना प्रेम और विश्वास बनाए रखें। जय बिहार, जय हिंद”

जबकि आरजेडी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि वह ऊपरी अदालत में फैसले के खिलाफ अपील करेंगे। पार्टी के मनोज झा ने कहा कि लालू को जबरन फंसाया गया है। उन्‍होंने कहा कि ‘कल तक जो पिंजड़े में तोता था, मगर आज उसे चिप से नियंत्रित किया जा रहा है। जो उनके सामने झुक जाता है, वह बच जाता है जो नहीं झुकता, उसे झेलना पड़ता है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here