लालू ने की शौचालय घोटाले में जांच की मांग, कहा- ‘मुझे कहते हैं चारा खा गया, अब नीतीश क्या खा गए?’

0

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद ने शनिवार (4 नवंबर) को नीतीश सरकार से पटना जिले में शौचालय निर्माण में हुए घोटाले की अपने स्तर से ठीक ढंग से जांच कराए जाने की मांग करते हुए इसे करोड़ों रुपये के सृजन घोटाले से भी बड़ा बताया।

PHOTO: India.com

साथ ही उन्होंने दावा किया कि अगर राज्य के अन्य जिलों में भी शौचालय निर्माण की जांच की जाए तो इसका आंकड़ा अरबों में पहुंच सकता है। पटना में पत्रकारों को संबोधित करते हुए लालू ने आरोप लगाया कि बिहार में हालात दिन प्रतिदिन बद से बदतर होते जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मौजूदा मुख्यमंत्री और उनके चेले-चपाटे बोलते थे कि भ्रष्टाचार को लेकर हमारा जीरो टॉलरेंस है।

न्यूज एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, गत जुलाई महीने में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के साथ मिलकर बिहार में राजग की सरकार बना लेने पर नीतीश कुमार पल्टू राम की संज्ञा देने वाले लालू ने कहा कि पल्टू बाबू भी बोलते थे कि हमारी सरकार पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा है।

उन्होंने कहा कि उंगली पर गिनती की जाए तो इनके राज में भ्रष्टाचार के दर्जनों मामले घटित हो गए सृजन घोटाला, शौचालय घोटाला, महादलित घोटाला, छात्रवृत्ति घोटाला, परीक्षा में टॉपर घोटाला। ये अपनी छवि बनाने में व्यस्त रहे और वहां गरीबों की राशि लुटती रही।

लालू ने कहा कि शौचालय घोटाला पटना के अलावा प्रदेश के अन्य जिलों में भी सामने आ सकता है और इसकी राशि अरबों रुपये में पहुंच सकती है। उन्होंने पूछा कि किस परिस्थिति में शौचालय बनाने का जिम्मा स्वयंसेवी संगठनों के हाथ में सौंपा गया, जबकि यह कार्य विभागीय स्तर पर होना चाहिए था। इसकी जांच होनी चाहिए।

लालू ने नीतीश पर प्रहार करते हुए कहा कि जब भी कोई बड़ा घपला प्रकाश में आता है तो वे बोलते हैं कि हमने जांच के लिए उच्च स्तरीय समिति बना दी है। दोषी बख्शे नहीं जाएंगे पर यह बताएं वे कैसे बख्शे जा रहे हैं और शासन के शीर्ष पर कैसे बैठे हुए हैं।

इसके अलावा लालू ने शनिवार को ट्वीट कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जोरदार हमला बोला। लालू ने बिहार सरकार और नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए सवालिया लहजे में ट्वीट कर लिखा, ‘तथाकथित चारा घोटाले में ई लोग बोलते थे, लालू चारा खा गए। अब शौचालय घोटाले में वो क्या बोलेंगे, नीतीश क्या खा गए?’

एक अन्य ट्वीट में सीधे तौर सीएम नीतीश कुमार को घेरते हुए लालू ने लिखा, “बिहार में हर तीसरे रोज़ हो रहे घोटालो के बाद नीतीश कहते हैं दोषी बख्शे नहीं जाएंगे! अरे दोषी तो स्वयं तुम हो। काहे रटा-रटाया बोलते रहते हो?”

नीतीश के साथ ही उन्होंने उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी पर भी सृजन घोटाला में संलिप्तता तथा उनकी बहन रेखा मोदी के खाते में राशि हस्तांतरित होने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनके वित्त मंत्री रहने के दौरान ही सरकारी राशि बैंक में जमा किए जाने की अनुमति प्रदान की गई थी।

गौरतलब है कि पटना में शौचालय बनाने के नाम पर स्वयंसेवी संस्थाओं (एनजीओ) द्वारा 13 करोड़ रुपये की राशि के बंदरबांट का मामला सामने आया है। आरोप है कि पटना में शौचालय बनाने का पैसा लाभार्थियों को सीधे खाते में भेजने के बजाय लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग (पीएचईडी) ने तीन स्वयंसेवी संस्थाओं के खाते में भेज दिया। इस मामले में लेकर पटना के गांधी मैदान थाने में एक प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here