कुशीनगर हादसा: घटना स्थल पर पहुंचे CM योगी ने खोया आपा, कहा- ‘नौटंकी बंद करो’

0

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के दुदुई रेलवे स्टेशन के नजदीक मानव रहित क्रासिंग पर गुरुवार(26 अप्रैल) की सुबह एक स्कूल वैन के पैसेंजर ट्रेन की चपेट में आने से करीब 13 बच्चों की मौत हो गयी, जबकि इस घटना में कई बच्चें घायल हो गए।

बच्चों की मौत के बाद घटनास्थल का निरीक्षण करने पहुंचे सीएम योगी लोगों पर ही भड़क गए। जिसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वहीं, यह वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स भी सीएम पर तंज कस रहें है।

दरअसल, हादसे के बाद कुशीनगर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर दुख जताया और अस्पताल में भर्ती घायलों से मुलाकात कर डॉक्टरों को सख्त हिदायत दी। इसके बाद जब मुख्यमंत्री हादसे वाले स्थान का मुआयना करने पहुंचे तो ग्रामीणों ने उनके काफिले को रोक लिया और रेलवे प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने लगी। इस दौरान भीड़ बेकाबू हो गई, भीड़ को नियंत्रित करने में अधिकारियों के पसीने छूट गए।

पुलिस प्रशासन ने भीड़ को बहुत समझाने की कोशिश की लेकिन भीड़ इतनी उग्र थी कि कुछ समझने को ही तैयार नहीं थी। लोग रेलवे प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे, इस दौरान सीएम योगी ने भी जनता को समझाने की कोशिश की लेकिन भीड़ ने नहीं एक ना सुना।

इसके बाद सीएम गाड़ी के बोनट पर चढ़ गए और खुद लाउडस्पीकर लेकर उन्होंने कहा कि, ‘नारेबाजी बंद करो, नौटंकी बंद करो, यह दुखद घटना है। हम समस्या के समाधान की बात करें तो अच्छा होगा। मैं घटनास्थल का निरीक्षण करने आया हूं, यहां से हट जाओ।’

वहीं, सीएम योगी के इस बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद यूजर्स काफी नाराज है और उन पर जमकर निशाना साध रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को देख उग्र हुए लोग

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में मानवरहित रेलवे क्रॉसिंग पर ट्रेन और स्कूल वैन की टक्कर में 13 बच्चों की मौत पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को देख उग्र हुए लोग, सैकड़ों लोगों ने रेलवे प्रशासन के खिलाफ जमकर की नारेबाजी

Posted by जनता का रिपोर्टर on Thursday, 26 April 2018

विनोद कापड़ी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘जो बलात्कार का आरोपी होता है, उसे ये मुख्यमंत्री अंत तक बचाने की कोशिश करते हैं और जिनके बच्चे मारे गए हैं, उन्हें कहते हैं: “नौटंकी बंद करें आप लोग“ !!! इतना अहंकार और संवेदनहीनता योगी जी?’

वहीं, वरिष्ठ पत्रकार आशुतोष मिश्रा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘सरकार चलाना बच्चों का खेल नहीं है। मुख्यमंत्री में ना तो धैर्य है ना सहनशक्ति। सत्ता कांटों भरा होता है। एक तो मां बाप ने बच्चे खोए और ऊपर से सूबे का सीएम उन्हे इस तरह फटकारे! शर्मनाक है। औलाद खोने वाले परिवारों का दर्द तो समझते!’

वहीं, एक अन्य ने लिखा कि, ‘योगी जी जिन परिवार ने अपना बच्चा खोया है में, वो लोग “नौटंकी” नही कर रहे है। उनकी भावनाओ को समझो और संयम बरते।’

देखिए कुछ ऐसे ही ट्विटस: 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here