शिलांग पहुंचे कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार, सीबीआई आज करेगी पूछताछ

0

कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार सारदा चिटफंड घोटाले में सबूतों को नष्ट करने में अपनी कथित भूमिका को लेकर सीबीआई पूछताछ का सामना करने शुक्रवार को मेघालय की राजधानी शिलांग पहुंचे। एक अधिकारी ने बताया कि कुमार से यहां सीबीआई कार्यालय में और एक अज्ञात स्थान पर सीबीआई की टीम पूछताछ करेगी। कुमार के साथ कोलकाता पुलिस के तीन अन्य आईपीएस अधिकारी भी आए हैं। गृह विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा, ‘कुमार को शहर के एक बहुत बड़े होटल में ठहराया गया है। राज्य पुलिस उन्हें सुरक्षा प्रदान कर रही है।’

PTI

सीबीआई अधिकारियों का एक समूह उनसे पूछताछ करने के लिए दिल्ली से आ रहा है और उसके शुक्रवार रात में पहुंचने का कार्यक्रम है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कोलकाता के पुलिस कमिश्नर को सीबीआई के सामने पेश होने और सारदा चिटफंड घोटाले से जुड़े मामलों की जांच में उसके साथ ‘विश्वनीय रूप से’ सहयोग करने का निर्देश दिया था। हालांकि, मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली तीन-सदस्यीय पीठ ने स्पष्ट किया था कि कुमार के खिलाफ कोई दंडात्मक कार्रवाई फिलहाल नहीं की जाएगी, न ही उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।

सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में आरोप लगाया था कि सारदा चिटफंड घोटाले की एसआईटी जांच के अगुवा रहे कुमार ने इलेक्ट्रॉनिक सबूतों के साथ छेड़छाड़ की और उन्होंने सीबीआई को जो दस्तावेज सौंपे, उनमें से कुछ में ‘छेड़छाड़’ की गई थी। शीर्ष अदालत ने ‘सभी अनावश्यक विवादों से बचने के लिए’ कुमार को तटस्थ स्थान शिलॉन्ग में सीबीआई के सामने पेश होने का निर्देश दिया था।

इससे पहले सीबीआई की एक टीम कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से चिटफंड घोटाले के सिलसिले में पूछताछ करने के लिए रविवार को उनके आवास पर गई थी, लेकिन टीम को उनसे मिलने की अनुमति नहीं दी गई और उन्हें जीप में भरकर थाने ले जाया गया। टीम को थोड़े समय के लिए हिरासत में भी रखा गया था। उसके बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ‘संविधान बचाने के लिए’ तीन दिन तक धरना दिया था। फिर सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के बाद उन्होंने अपना धरना खत्म किया।

ममता ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को अपनी ‘नैतिक जीत’ बताया था, वहीं केंद्र सरकार इसे ममता सरकार को झटका बता रही थी। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी अमित शाह पर बंगाल में तख्तापलट करने का प्रयास करने के आरोप लगाए। वहीं सीबीआई के मुताबिक, आईपीएस अधिकारी राजीव कुमार ने चिटफंड घोटाले की जांच में पश्चिम बंगाल पुलिस के विशेष जांच दल का नेतृत्व किया था और उनसे गायब दस्तावेजों तथा फाइलों के बारे में पूछताछ करने की जरूरत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here