दलित लड़की के गैंगरेप पर असंवेदनशील टिप्पणी को लेकर सामाजिक कार्यकर्ताओं ने किरण बेदी से मांगा इस्तीफा

0

बता दें कि दिल्ली के हुए निर्भया कांड की तरह ही दरिंदगी अब हरियाणा के रोहतक में दोहराया गया है। यहां काम पर जा रही एक 20 वर्षीय युवती को अगवा करके न केवल उसके साथ गैंगरेप किया गया, बल्कि उसके साथ इस कदर बर्बरता की है कि आपसे होश उड़ जाएंगे।महिला से गैंगरेप करने के बाद उसके निजी अंगों को भी काफी नुकसान पहुंचाया गया है। इतना ही नहीं, महिला की पहचान मिटाने के लिए दरिंदों ने उसकी चेहरे पर गाड़ी भी चढ़ा दी। मौत से पहले उसके साथ गैंगरेप और बर्बरता की गई, साथ ही दरिंदों ने युवती के निजी अंगों में राड डाली थी।

यह घटना 9 मई की है और इसका खुलासा 12 मई को तब हुआ जब महिला की क्षत-विक्षत स्थिति में लाश रोहतक के IMT एरिया के एक खाली प्लॉट में पड़ी मिली। जानवर उसके चेहरे और कमर के निचले हिस्से को करीब-करीब खा चुके थे। पुलिस जांच में पता चला है कि युवती ने एक आरोपी से शादी का प्रस्ताव ठुकरा दिया था।

इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, इन दोनों आरोपियों को पुलिस ने सोमवार(15 मई) को कोर्ट में पेश किया। जिन्हें सात दिन की रिमांड पर भेज दिया गया। बाकी आरोपियों की तलाश में छापेमारी चल रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि मामले में जल्द इंसाफ दिलाने के लिए सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में कराई जाएगी। बर्बरता करने वालों को छोड़ेंगे नहीं।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here