किरण बेदी से ‘परेशान’ हुई पुडुचेरी सरकार, CM नारायणसामी ने मोदी सरकार से कहा- LG को वापस बुलाओ

0

दिल्ली की तरह अब पुडुचेरी में भी कांग्रेस सरकार और उपराज्यपाल किरण बेदी के बीच टकराव की स्थिति उत्पन्न हो गई है। दरअसल, पुडुचेरी नगर निगम आयुक्त आर चंद्रशेखरन के तबादले को लेकर लेफ्टिनेंट गवर्नर(LG) और विधानसभा अध्यक्ष के बीच बीते एक सप्ताह से जारी विवाद अब काफी आगे बढ़ गया है। कांग्रेस सरकार ने किरण बेदी पर संवैधानिक प्रावधानों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया है।

Kiran Bedi
फाइल फोटो।

इस बीच खबर आ रही है कि राज्य सरकार उपराज्यपाल किरण बेदी को हटाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए वी नारायणसामी सरकार विधानसभा में बकायदा प्रस्ताव लाने की तैयारी कर रही है। साथ ही मुख्यमंत्री ने केंद्र की मोदी सरकार से किरण बेदी को वापस बुलाने का अनुरोध कर दिया है।

सीएम नारायणसामी ने एलजी किरण बेदी पर पुलिसवालों के साथ गलत व्यवहार का आरोप लगाते हुए कहा कि उपराज्यपाल जवानों के साथ नौकरों जैसा बर्ताव करती हैं। सामी ने तो यहां तक कह डाला कि किरण बेदी उपराज्यपाल पद के योग्य नहीं है। सीएम ने कहा कि हमारी सरकार विधानसभा में प्रस्ताव लाकर एलजी को हटाने के लिए कदम उठाएगी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस शासित प्रदेश पुडुचेरी के मुख्यमंत्री नारायणसामी ने LG किरण बेदी के खिलाफ इस प्रस्ताव को पारित करने के लिए एक अखिल पार्टी की बैठक बुलाई थी। रिपोर्ट के अनुसार, प्रस्ताव में कहा गया है कि केंद्र सरकार पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी को वापस बुलाए। अब देखना होगा कि दिल्ली की तरह पुडुचेरी में शुरू हुआ यह घमासान कहां जाकर विराम लेता है।

किरण बेदी ने किया पलटवार

वहीं, पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी ने मुख्यमंत्री वी नारायणसामी की एक टिप्पणी को लेकर उन पर पलटवार करते हुए पूछा कि उन्हें एक रबर स्टैम्प की आवश्यकता है या एक जिम्मेदार प्रशासन की। किरण बेदी ने कहा कि पुडुचेरी को न्याय, अखंडता और सुशासन की आवश्यकता है।

बेदी ने कहा कि मुख्यमंत्री एक ऐसा उपराज्यपाल चाहते हैं, जो लोगों के साथ गलत होता देख भी चुप रहे। व्हाट्सएप पर पत्रकारों एवं प्रतिष्ठित हस्तियों के एक ग्रुप पर संदेश में उन्होंने कहा कि उन्हें एक ऐसा उपराज्यपाल चाहिए जो एक मूक दर्शक बना रहे और समय काटता रहे और राज निवास से मिलने वाली सहूलियतों का फायदा उठाता रहे।

उन्होंने आगे कहा कि लोगों से मिले बिना या अधिकारियों से सवाल किए बिना वही करे जो वह चाहते हैं। किरण ने कहा कि क्या उन्हें एक रबर स्टैम्प चाहिए या एक जिम्मेदार प्रशासन। बता दें कि पिछले साल मई में पूर्व आईपीएस अधिकारी किरण बेदी के उपराज्यपाल का कार्यभार संभालने के बाद से ही पुडुचेरी की कांग्रेस सरकार और उनके बीच कई मुद्दों को लेकर टकराव हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here