भारत सरकार द्वारा फीकी मेहमाननवाजी के बीच बॉलीवुड के ‘किंग खान’ शाहरुख और आमिर खान ने की कनाडाई PM जस्टिन ट्रूडो से मुलाकात

0

एक सप्ताह के भारत दौरे पर आए कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रड्यू को भारत में मिले फीके स्वागत की चर्चा पूरी दुनिया में हो रही है। हर कोई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एयरपोर्ट पर गर्मजोशी से दिए गए हग और विदेशी मेहमानों के आने से पहले होने वाले ट्वीट के नदारद होने से हैरान है। भारत सरकार द्वारा फीकी मेहमानवाजी के बीच बीच बॉलीवुड के ‘किंग खान’ शाहरुख खान ने मंगलवार (20 फरवरी) को मुंबई में कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो से मुलाकात की।शाहरुख और ट्रूडो की तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं। कनाडाई पीएम को किंग ऑफ रोमांस से मिलकर जितनी खुशी हुई उससे कहीं ज्यादा उनके बच्चे खुश हुए। ट्रूडो मंगलवार को मुंबई में थे जहां वो शाहरुख के अलावा कई अन्य फिल्मी सितारों से मुलाकात की। इसी क्रम में उन्होंने बॉलीवुड बादशाह शाहरुख खान से मुलाकात की।

शाहरुख खान के अलावा यहां बॉलीवुड के मिस्‍टर परफेक्‍शनिस्‍ट आमिर खान भी पहुंचे थे। वहीं एक्‍टर आर. माधवन ने भी जस्टिन ट्रूडो के साथ अपनी एक सेल्‍फी सोशल मीडिया पर शेयर की है। इसके अलावा अभिनेता अनुपम खेर भी इस इवेंट का हिस्‍सा बने और केनेडियन पीएम से मुलाकात की। जबकि एक्‍टर-प्रोड्यूसर फरहान अख्‍तर भी इस सम्‍मेलन में हिस्‍सा बनने पहुंचे।गुजरात दौरे के बाद जस्टिन ट्रूडो ने 20 फरवरी को मुंबई में गए और इस दौरान उन्होंने वैसे तो तमाम फिल्मी सेलिब्रेटियों से मुलाकात की, लेकिन सोशल मीडिया पर सिर्फ शाहरुख की तस्वीरें वायरल हो रही हैं। ट्विटर पर वायरल हो रही इन तस्वीरों में पीएम जस्टिन और उनका पूरा परिवार भारतीय कपड़ों में नजर आ रही है।

मुंबई से पहले जस्टिन ट्रूडो उत्तर प्रदेश और गुजरात का दौरा कर चुके हैं। वह बुधवार को अमृतसर के स्वर्ण मंदिर भी जाएंगे। इस दौरान कनाडाई पीएम स्वर्ण मंदिर में मत्था टेकेंगे। फिर पार्टीशन म्यूजियम भी देखेंगे। इसके बाद अमृतसर के ताज होटल में जस्टिन ट्रूडो और पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की मुलाकात होगी। 

17 फरवरी को भारत पहुंते ट्रूडो

बता दें कि ट्रूडो 17 फरवरी की रात भारत पहुंचे, लेकिन पीएम मोदी या कोई बड़ा नेता अबतक उनसे मिलने नहीं पहुंचा है, इसको कनाडा के लोग ट्रूडो के अपमान की तरह देख रहे हैं। कनाडा के कुछ लोगों का मानना है कि भारत जानबूझकर ट्रूडो को नजरअंदाज करके उनका अपमान कर रहा है। जस्टिन ट्रूडो का यह उनका पहला आधिकारिक भारत दौरा है। ट्रूडो 17 फरवरी से 24 फरवरी, 2018 तक भारत दौरे पर हैं।

कनाडा के प्रधानमंत्री के दौरे का मकसद दोनों देशों के बीच व्यापार, निवेश, ऊर्जा, विज्ञान एवं नवाचार, ऊच्च शिक्षा, बुनियादी विकास और अंतरिक्ष समेत कई क्षेत्रों के साझा हितों को लेकर द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करना है। इसके अलावा, दोनों देश आपसी हितों के वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दों पर विचार साझा करेंगे। वे सुरक्षा और आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई के लिए सहयोग पर प्रतिबद्धता जताएंगे।

ताज का किया दीदार

इससे पहले कनाडियन प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो पूरे परिवार के साथ रविवार (18 फरवरी) को आगरा पहुंचकर विश्व प्रसिद्ध ताजमहल का दीदार किया। उन्होंने यहां लगभग पौने दो घंटे का समय गुजारा। प्रधानमंत्री ने ताजमहल को लाजवाब बताते हुए विजिटर्स बुक पर लिखा कि यह स्थल दुनिया में अतिसुंदर है। यहां परिवार के साथ आकर काफी खुश हुआ।

कनाडा के प्रधानमंत्री सुबह लगभग 10 बजे शिल्पग्राम से बैटरी बस में ताजमहल पहुंचे। उन्होंने पत्नी सोफी, तीनों बच्चों जेवियर जेम्स, इला ग्रेस और हेड्रेन ग्रगोएर के साथ ताजमहल को निहारा। उनके साथ कनाडा का जो व्यापारिक प्रतिनिधिमंडल आया है उसने भी प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के साथ ताज का दीदार किया। ताज के इतिहास के बारे में उन्हें काफी जानकारी थी।

फीका रहा स्वागत

कनाडियन पीएम 23 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। हालांकि ट्रूडो के दिल्ली पहुंचने पर उनके स्वागत को फीका बताया जा रहा है। दरअसल शनिवार को जस्टिन ट्रूडो अपने परिवार और प्रतिनिधिमंडल सहित दिल्ली पहुंचे थे। इस दौरान पीएम मोदी की तरफ से उनका स्वागत न किए जाने के कारण इस स्वागत को फीका बताया गया है। कनाडा का मीडिया पूछ रहा है कि आखिर पीएम मोदी ने उनके प्रधानमंत्री का उस तरह से स्‍वागत क्‍यों नहीं किया जैसे वह बाकी देश के नेताओं का करते हैं?

दरअसल, कानाडा के लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर भी इस बात को लेकर सवाल उठाया जा रहा है कि आखिर क्‍यों पीएम मोदी, ट्रूडो का इंतजार करते हुए नजर नहीं आए। जस्टिन ट्रूडो नई दिल्ली पहुंचे तो उनकी अगवानी करने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जोधपुर के सांसद और केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और राजदूत विकास स्वरूप को एयरपोर्ट भेजा। वहीं आगरा पहुंचने पर यूपी सीएम के योगी आदित्यनाथ ने भी उनका स्वागत नहीं किया। आगरा के जिलाधिकारी गौरव दयाल तथा कमिश्नर के. राममोहन राव कनाडा के पीएम के स्वागत के लिए मौजूद रहे।

जस्टिन ट्रूडो के हफ्ते भर के दौरे में भारत द्वारा उचित सम्मान नहीं मिलने को कनाडा मीडिया ने मुद्दा बना दिया है। बता दें कि पीएम मोदी ने अबतक पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे, अबु धाबी के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन जायद अल नहयान, बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना और इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू को एयरपोर्ट पर खुद जाकर स्वागत किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here