रामदेव की पतंजलि ने गूगल प्लेस्टोर से हटाया अपना किम्भो मैसेजिंग ऐप

0

योग गुरू रामदेव की कंपनी पतंजलि द्वारा वॉट्सऐप की तर्ज पर शुरू किया गया किम्भो ऐप फेल होता हुआ दिखाई दे रहा है। दरअसल, लोगों द्वारा सवाल खड़ा किए जाने के बाद पतंजलि ने गूगल प्लेस्टोर से अपने मैसेजिंग ऐप किंभो को हटा लिया है। साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों ने इसे सुरक्षा के लिए बेहद खतरनाक बताया है।

Kimbho

बता दें कि, बुधवार(30 मई) को रामदेव की कंपनी पतंजलि ने मेसेजिंग ऐप व्हॉट्सऐप को टक्कर देने के लिए एक मेसेजिंग ऐप लॉन्च किया थी। इस ऐप की टैगलाइन है- अब भारत बोलेगा। पतंजलि के प्रवक्ता तिजारावाला ने दावा किया है कि ये स्वदेशी मेसेजिंग ऐप व्हॉट्सऐप को कड़ी टक्कर देगी।

इस ऐप का नाम किंभो (Kimbho) है। पतंजलि के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने ट्वीट कर लिखा कि, “अब भारत बोलेगा.! सिम कार्ड के बाद बाबा रामदेव ने लॉन्च किया मैसेजिंग ऐप KIMBHO, व्हाट्सऐप को मिलेगी टक्कर.. अपना मैसेजिंग प्लेटफार्म। गूगल प्ले स्टोर से सीधे डाउनलोड करें।”

वहीं फ्रांसीसी साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ इलियट एल्डरसन (Elliot elderson) ने अपने ट्वीट में बताया कि किम्भो ऐप के क्विक सिक्योरिटी चैक में ऐप में कई बड़ी कमियां पाई गई हैं और ये ऐप की सिक्योरिटी एक मजाक की तरह है। वह सभी किम्भो यूजर्स के मैसेज पढ़ सकते हैं और ये ऐप यूजर्स के लिए बिल्कुल सुरक्षित नहीं है।

बता दें कि, कुछ दिनों पहले बाबा रामदेव ने पब्लिक सेक्टर की टेलीकॉम कंपनी बीएसएनएल के साथ मिलकर पतंजलि स्वदेशी समृद्धि सिम कार्ड लॉन्च किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here