केजरीवाल ने लिखी NCW की अध्यक्ष को चिट्ठी, महिला जासूसी कांड में नरेंद्र मोदी और अमित शाह के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की

0

दिल्ली के मुख्यमंत्री औऱ आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक ने एक बार फिर से नरेंद्र मोदी और उनके सहयोगी अमित शाह को घेरने की तैयारी में लग गए हैं। केजरीवाल ने राष्ट्रीय महिला आयोग से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर गुजरात में एक महिला की जासूसी कराने के आरोपों की जांच कराने और सख़्त कार्रवाई करने की मांग की है।

दरअसल दिल्ली के ओखला से आप पार्टी के एमएलए अमानतुल्लाह ख़ान पर शुक्रवार को शारीरिक शोषण की एफ़आईआर दर्ज होने के बाद राष्ट्रीय महिला आयोग ने मामले पर स्वत: संज्ञान लेते हुए दिल्ली सरकार से जवाब मांगा था।

Also Read:  जम्मू कश्मीर: पूरे परिवार सहित 9 साल की बच्ची पर भी गौरक्षकों ने बोला हमला, पांच लोग जख्मी

आयोग की अध्यक्ष ललिता कुमारमंगलम ने एक पत्र लिखकर इस बात पर भी चिंता जताई कि पिछले कई महीनों के दौरान दिल्ली विधानसभा के चुने हुए प्रतिनिधियों पर महिलाओं के ख़िलाफ़ अपराध के आरोप लग रहे हैं। आयोग ने 11 सितंबर को दिल्ली सरकार को पत्र लिखकर घटनाओं की वास्तविकता से अवगत कराने को कहा था।

इस पत्र के जवाब में केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली सरकार महिलाओं के ख़िलाफ़ अपराध में पाए गए लोगों के ख़िलाफ़ कठोर कार्रवाई करने के लिए प्रतिबद्ध है। संसदीय इतिहास में मेरी सरकार पहली है जिसने अपने तीन मंत्रियों को बर्ख़ास्त कर दिया था जब उनके ख़िलाफ़ अनुचित व्यवहार के सुबूत सामने आए थे।

Also Read:  विपक्ष की एकजुटता पर वेंकैया नायडू का पलटवार कहा, राहुल गाँधी अपनी पार्टी में एकता लाने में असफल

अरविंद केजरीवाल ने यह भी लिखा कि मैं आपकी इस बात के लिए तारीफ़ करूंगा की आपने हाल ही में एक टीवी प्रोग्राम में ख़ुलासा किया था कि साल 2013 में आपने नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ कार्रवाई की मांग की थी जब एक महिला की जासूसी कराने के तथ्य सामने आए थे।

आपने उस प्रोग्राम में कहा था कि उस समय आप बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की सदस्य थीं और आपने पार्टी के मंच पर इस मुद्दे को उठाया था। आप उस समय मोदीजी पर कोई कार्रवाई नहीं कर सकती थीं क्योंकि आप राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष नहीं थीं।”

Also Read:  ब्रिटेन, अमेरिका समेत दुनिया के 99 देशों पर साइबर हमला, मांगी फिरौती

केजरीवाल ने राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ललिता कुमारमंगलम को लिखे पत्र में कहा कि मैं इस पत्र के कुछ संबंधित दस्तावेज और डिजिटल साक्ष्यों को भी लगा रहा हूं कि किस प्रकार मोदी और शाह ने खुद से आधी उम्र की एक युवा महिला की जासूसी की और वह भी इसलिए क्योंकि मोदी जी, जो उस वक्त गुजरात के मुख्यमंत्री थे, की ‘असामान्य रुचि’ उस महिला में थी।

csoi_lkwiaa9b9t

csoi-prw8aa0ktl

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here