सीएम केजरीवाल ने की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना रद्द करने की मांग

0

आम आदमी पार्टी(आप) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं। इसी बीच, सीएम अरविंद केजरीवाल ने मोदी सरकार पर किसानों को पीड़ा पहुंचाने का आरोप लगाया और प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) को रद्द करने की मांग की।

केजरीवाल
FILE PHOTO: @AamAadmiParty

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार(28 अक्टूबर) को राजस्थान के जयपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि अगर फसल खराब होने से किसान प्रभावित होता है तो उसका मुआवजा सरकार को देना चाहिए न कि बीमा कंपनियों को।

उन्होंने कहा, ‘हमारी मांग है कि पीएमएफबीवाई को तुरंत रद्द किया जाना चाहिए और इसके लिए किसानों के खाते से काटी गई रकम वापस की जानी चाहिए। हमें आपकी योजना स्वीकार नहीं है। यह योजना बीमा कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए शुरू की गई है।’

आम आदमी पार्टी (आप) के नेता ने कहा कि लोगों ने लोकसभा चुनाव 2014 में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को इसलिए वोट दिया, क्योंकि वे कांग्रेस से ऊब चुके थे। उन्होंने कहा, ‘उनको उम्मीद थी कि बीजेपी कुछ करेगी, लेकिन किसान अब भी कष्ट झेल रहे हैं और आत्महत्या कर रहे हैं। यह कहना गलत नहीं होगा कि किसान अब तक के सबसे बुरे हालात में हैं।’

केजरीवाल आप नेता रामपाल जाट की बेमियादी अनशन तुड़वाने के लिए राजस्थान के दौरे पर आए थे। रामपाल किसानों की विभिन्न मांगों को लेकर 23 अक्टूबर से अनशन पर थे। केजरीवाल ने कहा, ‘ये लोग (बीजेपी) भूख हड़ताल की भाषा नहीं, बल्कि वोट की भाषा समझते हैं। मैंने उनको उपवास तोड़कर गांव-गांव जाकर लोगों से यह अपील करने को कहा कि वे भाजपा के खिलाफ वोट डालें। मैं खुश हूं कि वह मेरा आग्रह मान गए।’

बता दें कि अगले साल देश में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं और इसके लिए सभी राजनीतिक पार्टियां अभी से ही अपनी कमर कसने लग गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here