CBI Vs CBI मामला: सीएम केजरीवाल बोले- आलोक वर्मा की नियुक्ति पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला प्रधानमंत्री के लिए कलंक

0

सुप्रीम कोर्ट केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के निदेशक आलोक कुमार वर्मा को बड़ी राहत देते हुए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को बड़ा झटका दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा की याचिका पर अपना फैसला सुनाते हुए केंद्र सरकार द्वारा निदेशक आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजने के फैसले को निरस्त कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद मोदी सरकार विपक्षी पार्टियों के निशाने पर आ गई है। इसी बीच, सीएम केजरीवाल ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा, ‘कोर्ट का ये फैसला पीएम पर कलंक है।’

केजरीवाल
FILE PHOTO: @AamAadmiParty

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार पर देश के सभी संस्थानों और लोकतंत्र को बर्बाद करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा CBI के निदेशक आलोक वर्मा को बहाल किया जाना प्रधानमंत्री पर सीधे कलंक लगना है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर लिखा, ‘सुप्रीम कोर्ट का सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा को फिर से पद पर बहाल करना सीधे पीएम प्रधानमंत्री पर कलंक है। मोदी सरकार ने हमारे देश के सभी संस्थानों तथा लोकतंत्र को बर्बाद कर दिया है। क्या CBI निदेशक को आधी रात को गैरकानूनी तरीके से राफेल घोटाले की जांच रोकने के लिए नहीं हटाया गया, जो सीधे प्रधानमंत्री तक जाती है?’

आलोक वर्मा पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का कांग्रेस ने स्वागत किया है। कांग्रेस ने कहा, आलोक वर्मा को गैरकानूनी ढ़ंग से सीबीआई डायरेक्टर पद से हटाया गया था। अब उनकी नियुक्ति हुई है, हम अदालत के फैसले का स्वागत करते हैं।

गौरतलब है कि जांच ब्यूरो के निदेशक आलोक कुमार वर्मा और ब्यूरो के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के बीच छिड़ी जंग सार्वजनिक होने के बाद सरकार ने पिछले साल 23 अक्टूबर को दोनों अधिकारियों को उनके अधिकारों से वंचित कर अवकाश पर भेजने का निर्णय किया था। बता दें कि दोनों अधिकारियों ने एक दूसरे पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाये थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here