भाजपा हिन्दुओं की पार्टी है तो फिर गुजरात में पटेल समुदाय पर गोलियां क्यों चलवाई?- केजरीवाल

0

गुजरात में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी ने प्रचार की शुरुआत कर दी है और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज अपने फेसबुक पोस्ट में भाजपा पर हमला बोलते हुए सवाल कर दिया कि क्या भाजपा हिंदुओं की पार्टी है?

पिछले साल पटेल समुदाय के सदस्यों और पुलिस के बीच की हिंसक झड़पों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा,पिछले साल किसने पाटीदार आरक्षण आंदोलनकर्ताओं पर गोली चलाने का आदेश दिया था। जो लड़के मारे गए वो भी तो हिन्दू थे।

केजरीवाल ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा, ‘भाजपा कहती है कि वो हिन्दुओं की पार्टी है। पर भाजपा ने गुजरात में पिछले साल पटेल लड़कों पर गोलियाँ चलवायी। कई लड़के मारे गए। वो लड़के तो हिंदू थे। भाजपा हिन्दुओं की पार्टी है तो हिंदू लड़कों को क्यों मरवाया?’

Also Read:  हिंदू युवा वाहिनी के नेता ने नशे में धुत्त होकर कार से बछड़े को 20 मीटर तक घसीटा

उन्होंने लिखा,  ‘कुछ महीने पहले उना ज़िले में भाजपा ने दलित लड़कों की बुरी तरह से पिटाई करवाई। पूरे देश ने उनकी पिटाई का विडीओ सोशल मीडिया पर देखा। दलित लड़के तो हिंदू थे। भाजपा हिन्दुओं की पार्टी है तो उन दलित लड़कों की पिटाई क्यों करवाई?’

ये भी पढ़े-सूरत रैली से पहले केजरीवाल के ओसामा बिन लादेन, बुरहान वानी के साथ लगे पोस्टर , लिखा- ये हैं पाकिस्तान के हीरो

Also Read:  Gujarat minister accused of employing school children in uniform for election work

ये भी पढ़े-‘आम आदमी पार्टी’ की सूरत रैली में खलल डाल सकती है बीजेपी: केजरीवाल

उन्होंने आगे लिखा, दरअसल सचाई ये है कि भाजपा हिन्दुओं की पार्टी नहीं है। भाजपा सत्ता और पैसे के लालची लोगों की पार्टी है। सत्ता और पैसे के लिए भाजपा वाले हिन्दुओं को तो क्या, अपने सगों को भी ना बख्शें।

गौरतलब है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सूरत रैली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर तीखा प्रहार किया और अमित शाह को‘जनरल डायर’ बताया

Also Read:  Hardik Patel shaves head with supporters ahead of PM Modi's Gujarat visit

पटेल समुदाय के सदस्यों और पुलिस के बीच की हिंसक झड़पों के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा, 26 अगस्त (2015) को किसने पाटीदार आरक्षण आंदोलनकर्ताओं पर गोली चलाने का आदेश दिया था। वे भारत के नागरिक थे न कि आतंकवादी। पुलिस गोलीबारी में 14 युवक मारे गए। हर कोई जानता है कि यह आदेश किसने दिया था। ये अमित शाह थे। केजरीवाल ने कहा, आप जानते हैं कि राज्य कौन चला रहा है। वह अमित शाह हैं। पहले आनंदीबेन पटेल मुख्यमंत्री थीं। अब विजय रूपानी हैं, जो केवल अमित शाह का एक रबड़ स्टांप हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here