VIDEO: कश्मीर में कथित मानवाधिकार हनन की रिपोर्ट पर मोदी सरकार का समर्थन करने पर असदुद्दीन ओवैसी पर भड़का यह कश्मीरी शख्स

0

अक्सर मोदी सरकार पर निशाना साधने वाले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने एक मसले को लेकर मोदी सरकार का समर्थन किया। असदुद्दीन ओवैसी ने कश्मीर पर मानवाधिकार हनन को लेकर पेश की गई संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की रिपोर्ट पर केंद्र सरकार के रूख का समर्थन करते हुए कहा कि हम इस रिपोर्ट को खारिज करते हैं, यह हमारे देश का अंदरूनी मसला है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, शनिवार को हैदराबाद की मक्का मस्जिद में नमाजियों को संबोधित करते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, यह हमारे देश की संप्रभुता का मुद्दा है। मैं अंतिम सांस तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का विरोध करूंगा लेकिन जब देश की बात आएगी तो हम सरकार का समर्थन करेंगे चाहे वह किसी भी पार्टी की सरकार हो। साथ ही उन्होंने कहा, संयुक्त राष्ट्र, देश के अंदरूनी मामलों में दखल नहीं दे सकता।

लेकिन अब उनके इसी बयान पर एक कश्मीरी शख्स ने नराजगी जताई है, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में वह कह रहें है कि, ‘मैं असदुद्दीन ओवैसी से यहीं कहूंगा की एक मुस्लिम हमेशा सच्चाई का साथ देता है। कश्मीर के लोग और यहां के मुस्लमान आपके इस बयान से मायूस हुए है। लेकिन आज उन लोगों की जम्मू-कश्मीर में आंखे खुलनी चाहिए जो समझते थे कि आपके दिल में कहीं हमारे दिए दर्द है।’

बता दें कि, इस वीडियो में वह असदुद्दीन ओवैसी के इस बयान की कड़ी निंदा कर रहें है। साथ ही वह इस वीडियो में कह रहें है कि, ‘ओवैसी साहब हमें पता है कि आपकी हैसियत हिन्दुस्तान में क्या है, आपकी हैसियत दूसरे दर्जें की मुस्लमानों से भी बदतर है।’ वह आगे कह रहें हे कि, ‘असदुद्दीन ओवैसी के इस बयान से उनका डरावना और काला चेहरा सामने आ गया है।’

बता दें कि, भारत ने कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की उस रिपोर्ट को खारिज किया था जिसमें कथित तौर पर मानवाधिकार उल्लंघन के आरोप लगाए गए थे। भारत ने यूएन की इस रिपोर्ट पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की थी। भारत ने संयुक्त राष्ट्र की इस रिपोर्ट को गलत और खास नजरिये से प्रेरित बताया था। विदेश मंत्रालय ने कहा था कि संयुक्त राष्ट्र की यह रिपोर्ट ‘अत्यधिक पूर्वाग्रह’ से ग्रसित है और झूठे नैरेटिव बनाने की कोशिश कर रही है।

उल्लेखनीय है कि, गुरुवार को जारी रिपोर्ट में संयुक्त राष्ट्र ने भारत और पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर में कथित मानवाधिकारों के उल्लंघन की बात कही है और इस बारे में अंतरराष्ट्रीय जांच कराने की मांग की है। विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘‘भारत इस रिपोर्ट को खारिज करता है। यह ‘भ्रामक, पक्षपातपूर्ण और प्रेरित है। हम ऐसी रिपोर्ट की मंशा पर सवाल उठाते हैं।’’ इसमें कहा गया है कि इस रिपोर्ट को काफी हद तक अपुष्ट सूचना को चुनिंदा तरीके से एकत्र करके तैयार किया गया है।

विदेश मंत्रालय ने संयुक्त राष्ट्र समेत पूरी दुनिया को एक बार फिर याद दिलाया है कि पूरा का पूरा जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और पाकिस्तान ने भारत के एक हिस्से पर जबरन अपना कब्जा कर रखा है। मंत्रालय ने कहा कि यह रिपोर्ट भारत की सम्प्रमुता और क्षेत्रीय अखंडता का उल्लंघन करती है। सम्पूर्ण जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है। पाकिस्तान ने भारत के इस राज्य के एक हिस्से पर अवैध और जबरन कब्जा कर रखा है।’’

देखिए वीडियो :

मोदी सरकार का समर्थन करने पर असदुद्दीन ओवैसी पर भड़का यह कश्मीरी शख्स

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) द्वारा कश्मीर में कथित मानवाधिकार हनन की रिपोर्ट पर मोदी सरकार का समर्थन करने पर असदुद्दीन ओवैसी पर भड़का यह कश्मीरी शख्स

Posted by जनता का रिपोर्टर on Sunday, 17 June 2018

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here