कर्नाटक के मंत्री ने अर्नब गोस्वामी और टाइम्स नाउ के खिलाफ दायर किया आपराधिक मानहानि का केस

0

वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। ताजा मामला कर्नाटक से है, जहां बेंगलुरु शहर विकास मंत्री केजे जॉर्ज ने अर्नब गोस्वामी और टाइम्स नाउ के खिलाफ आपराधिक मानहानि का केस दायर किया है। बता दें कि पिछले साल नवंबर तक अर्नब गोस्वामी, टाइम्स नाउ के एडिटर इन चीफ के रूप में कार्यरत थे।

फाइल फोटो।

जॉर्ज ने गोस्वामी और टाइम्स नाउ के खिलाफ यह आपराधिक मानहानि के 2015 में ईमानदार आईएएस अधिकारी डीके रवि की संदिग्ध मौत मामले में उनका नाम घसीटने को लेकर किया है। इस बारे में जानकारी देते हुए केजे जॉर्ज के वकील अजीश कुमार शंकर ने न्यूज वेबसाइट द मिंट से कहा कि एक सम्मानित आईएएस अधिकारी डीके रवि जिनका 16 मार्च, 2015 को निधन हो गया था।

उनके निधन के एक दिन बाद ही बिना किसी जांच के अर्नब गोस्वामी ने उनकी मौत को हत्या करार देते हुए केके जार्ज पर आरोप लगा दिया जो उस वक्त तत्कालीन गृहमंत्री थे। वकील ने कहा कि डीके रवि की मौत के साक्ष्यों को नष्ट करने और न्यायिक प्रक्रिया में हस्तक्षेप करने को लेकर हमने यह केस दायर किया है।

दो साल की देरी से आपराधिक मानहानि मामला दायर करने के सवाल पर मंत्री जॉर्ज ने कहा कि वह सीबीआई की जांच का इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीआईडी और सीबीआई की जांच में यह निष्कर्ष निकाला है कि डी के रवि ने आत्महत्या की थी।

मंत्री ने कहा कि मैंने अपने आप को पाक साफ होने तक इंतजार किया। जिसके बाद ही मैंने अर्नब गोस्वामी के खिलाफ आपराधिक मानहानि का केस दर्ज करने का निर्णय लिया। बता दें कि अवैध रेत खनन माफियाओं से टक्कर लेने वाले आईएएस ऑफिसर डीके रवि की रहस्यमय मौत ने सड़क से लेकर संसद तक सनसनी मचा दी थी।

बाद में आईएएस डीके रवि के शव का पोस्टमार्टम रिपोर्ट आया, जिसमें लिखा गया था कि डीके रवि की मौत दम घुटने से हुई जैसा कि फंदे से लटककर खुदकुशी करने में होती है। रिपोर्ट में साफ तौर पर लिख दिया गया है कि डीके रवि की मौत खुदकुशी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here