कर्नाटक: BJP जल्द ही पेश कर सकती है सरकार बनाने का दावा, ‘राजनीतिक खरीद-फरोख्त’ के खिलाफ देशभर में राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन करेगी कांग्रेस

0

कर्नाटक में पिछले काफी समय से जारी सियासी उठापटक एक तरह से विराम लग गया है। कर्नाटक में कांग्रेस-जद(एस) की सरकार मंगलवार (24 जुलाई) को विधानसभा में विश्वास मत हासिल करने में विफल रही और सरकार गिर गई। इसीके साथ राज्य में करीब तीन हफ्ते से चल रहे राजनीतिक ड्रामे का अंत हो गया। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को संख्या बल का साथ नहीं मिला और उन्होंने विश्वास मत प्रस्ताव पर चार दिन की चर्चा के खत्म होने के बाद हार का सामना किया।

विधानसभा में पिछले गुरुवार को उन्होंने विश्वास मत का प्रस्ताव पेश किया था। विधानसभा अध्यक्ष के आर रमेश कुमार ने ऐलान किया कि 99 विधायकों ने प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिया है जबकि 105 सदस्यों ने इसके खिलाफ मत दिया है। इस प्रकार यह प्रस्ताव गिर गया। एचडी कुमारस्वामी ने राजभवन जाकर राज्यपाल वजुभाई वाला से मिलकर अपना इस्तीफा सौंप दिया। राज्यपाल ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है।

जल्द ही कनार्टक में सरकार बनाने का दावा पेश करेगी BJP

इसके साथ ही भाजपा ने कहा है कि वह जल्द ही कनार्टक में सरकार बनाने का दावा पेश करेगी। कुमारस्वामी सरकार गिरने के बाद भाजपा के दफ्तर में जश्न का माहौल है। माना जा रहा है कि भाजपा कर्नाटक के अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा, कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री बन सकते हैं। भाजपा अगले दो दिनों में राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती है। बीएस येदियुरप्पा ने इसे लोकतंत्र की जीत बताया है।

येदियुरप्पा ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री मोदी और अध्यक्ष अमित शाह जी से बात करूंगा। इसके बाद मैं राज्यपाल से मिलूंगा। हम विधानसभा दल की मीटिंग करने जा रहे हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, भाजपा दो केंद्रीय पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में पार्टी विधायक दल की बैठक रमादा होटल में होगी। बैठक के बाद राज्यपा से मिलकर भाजपा सरकार बनाने का दावा पेश करेगी और येदियुरप्पा गुरुवार को शपथ ग्रहण कर सकते हैं।

सूत्रों ने बताया कि गुरुवार को सिर्फ येदियुरप्पा ही मुख्यमंत्री की शपथ लेंगे, बाकी मंत्रियों का शपथ ग्रहण बाद में होगा। राज्य में शीर्ष पद के लिए भाजपा की पसंद के बारे में पूछे जाने पर पार्टी के एक नेता ने कहा कि येदियुरप्पा ‘‘जाहिर तौर पर’’ दावेदार हैं लेकिन साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शाह सहित पार्टी का शीर्ष नेतृत्व इस बारे में निर्णय करेगा।

‘राजनीतिक खरीद-फरोख्त’ के खिलाफ होगा राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन

कर्नाटक विधानसभा में एचडी कुमारस्वामी नीत सरकार का विश्वास प्रस्ताव गिरने के बाद कांग्रेस ने मंगलवार को कहा कि भाजपा ने ‘अनैतिक ढंग’ से भले ही संख्या के मामले में बढ़त हासिल कर ली, लेकिन उसे और सहयोगी जद(एस) को नैतिक जीत मिली है। पार्टी के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल ने यह भी कहा कि कांग्रेस भाजपा की इस ‘राजनीतिक खरीद-फरोख्त’ के खिलाफ अब देशभर में प्रदर्शन करेगी।

कांग्रेस के कर्नाटक प्रभारी ने ट्वीट कर कहा, ‘कर्नाटक में भाजपा द्वारा सरकार गिराना देश में अब तक की सबसे जघन्य राजनीतिक खरीद-फरोख्त है। यह केंद्र सरकार, राज्यपाल, महाराष्ट्र सरकार और भाजपा नेतृत्व द्वारा मिलकर किया गया।’ उन्होंने कहा, “हमारे जो विधायक पार्टी के साथ खड़े रहे और जिन कार्यकर्ताओं ने राजनीतिक नैतिकता को बरकरार रखने की लड़ाई लड़ी वो बड़े सम्मान के हकदार हैं।”

वेणुगोपाल ने दावा किया, ‘भाजपा सदन में भले ही संख्या के मामले में भारी पड़ी, लेकिन कांग्रेस और जद(एस) ने नैतिक जीत हासिल की।” उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ‘भाजपा द्वारा अनैतिक ढंग से सरकार गिराने’ के खिलाफ राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here