कर्नाटक: शपथ ग्रहण के बाद अब विधानसभा में 25 मई को होगा शक्ति परीक्षण

0

कर्नाटक में त्रिशंकु नतीजों के बाद सात दिन के भीतर गुरुवार (23 मई) को दूसरी सरकार ने कमान संभाल ली। 12 प्रमुख विपक्षी दलों के दिग्गज नेताओं की मौजूदगी में बुधवार को जदएस नेता एचडी कुमारस्वामी ने मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं दलित नेता जी परमेश्वर ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। राज्यपाल वजुभाई वाला ने यहां स्थित विधान सौध परिसर में एक भव्य समारोह में कुमारस्वामी को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।

(Source: Reuters)

इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, उनकी मां एवं संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, केरल के मुख्यमंत्री पिनारई विजयन तथा आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू मौजूद थे। इनके अलावा बिहार विधानसभा में नेता विपक्ष तेजस्वी यादव, बसपा प्रमुख मायावती तथा सपा नेता अखिलेश यादव, राकांपा नेता शरद पवार, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी और समाजवादी नेता शरद यादव भी उपस्थित थे।

25 मई को होगा शक्ति परीक्षण

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक कर्नाटक विधानसभा में नवगठित कांग्रेस- जद (एस) गठबंधन सरकार का शक्ति परीक्षण 25 मई को होगा। विधायकों को दी गई सूचना के मुताबिक नवगठित 15 वीं विधानसभा के पहले सत्र की बैठक दोपहर 12 बजकर 15 मिनट पर बुलाई गई है। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष एवं विधानसभा उपाध्यक्ष का निर्वाचन और शक्ति परीक्षण उसी दिन होंगे।

बी एस येदियुरप्पा के नेतृत्व वाली बीजेपी की सरकार के केवल तीन दिनों के बाद गिरने के साथ राज्यपाल वजुभाई वाला ने कुमारस्वामी के नेतृत्व वाले गठबंधन को सरकार के गठन के लिए बुलाया था और 15 दिनों के भीतर सदन में बहुमत साबित करने को कहा। 117 विधायकों का समर्थन होने का दावा करने वाली गठबंधन सरकार ने विधानसभा अध्यक्ष के लिए कांग्रेस नेता रमेश कुमार के नाम पर फैसला किया है, जबकि विधानसभा उपाध्यक्ष का पद जद(एस) के उम्मीदवार को दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here