पाकिस्तानी कलाकारों पर बैन आतंकवाद का हल नहीं- करण जौहर

0

जम्मू के उड़ी हमले के बाद पाकिस्तान के विरोध में कई संगठनों ने मोर्चा खोल दिया है। जिसमें एमएनएस ने पाकिस्तानी कलाकारों को भारत छोड़ने के लिए 48 घंटे का अंलटीमेटम दिया था। इस मामले में फिल्म निर्माता और निर्देशक करण जौहर ने सवाल उठाते हुए कहा कि क्या ऐसा करने से आतंकवाद खत्म हो जाएगा।

NDTV की खबर के अनुसार, करण जौहर ने कहा कि मैं लोगों के ग़ुस्से और नाराज़गी को समझता हूं लेकिन पाकिस्तान से आने वाले एक्टर्स, कलाकारों को बैन करना आतंकवाद का हल नहीं है, करण जौहर ने कहा कि जब भी मैं इस तरह की ख़बर देखता हूं ना केवल डर लगता है बल्कि गुस्सा भी आता है।

Also Read:  जज को पसंद नहीं आए पत्रकारों के कपड़े, पूछा- 'कैसे पत्रकार जीन्स और टी-शर्ट पहनकर कोर्ट में चले आते हैं?'

गौरतलब है कि करण जौहर की आने वाली फिल्म ऐ-दिल है मश्किल रीलीज होने वाली है जिसमें पाकिस्तानी अभिनेता फवाद खान लाड रोल में हैं। एमएनएस ने फिल्म को महाराष्ट्र के सिनेमाघर में ना चलाने की धमकी दी है।

आपको बता दें कि उड़ी हमले के बाद पाक कलाकारों को धमकी देते हुए एमएनएम की विंग चित्रपट के नेता अमेय कोपकर ने कहा था कि हम पाक कलाकारों को 48 घंटे का समय देते हैं कि वह देश छोड़ दें। अगर पाक कलाकारों ने देश नहीं छोड़ा तो एमएनएस के कार्यकर्ता उन्हें जहां शूटिंग हो रही होगी वहां घुस कर उन्हें मारेंगे।

वहीं इस पर शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत ने कहा था कि अब किसी की हिम्मत नहीं होगी पाकिस्तान को खुला स्पोर्ट करने की।

Also Read:  Manohar Parrikar a 'part-time' Defence Minister: Goa Congress

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here