मोदी सरकार के बचाव में आए करण जौहर, कहा- अर्थव्यवस्था भी फिल्मों की तरह इंटरवल के बाद रफ्तार पकड़ेगी

0

मशहूर फिल्म निर्माता-निर्देशक करण जौहर ने सुस्‍त अर्थव्यवस्था पर आलोचना झेल रही मोदी सरकार का बचाव किया है। करण जौहर ने भारतीय अर्थव्यवस्था की तुलना फिल्मों से करते हुए गुरुवार(5 अक्टूबर) को कहा कि जिस तरह से फिल्म इंटरवल के बाद तेजी पकड़ती है, उसी तरह चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही में देश की अर्थव्यवस्था में भी तेजी आएगी।

न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, राजधानी दिल्ली में आयोजित विश्व आर्थिक मंच के भारत आर्थिक शिखर सम्मेलन में जौहर ने कहा कि पिछली दो तिमाहियों में अर्थव्यवस्था की रफ्तार धीमी रही, लेकिन अब यह बढ़ रही है और निराशावाद के लिए कोई जगह नहीं है। अर्थव्यस्था पर उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि सिनेमा में इंटरवल बहुत महत्वपूर्ण बिंदु होता है।

उन्होंने कहा कि हम सभी जानते हैं कि अधिकतर फिल्में इंटरवल के बाद तेजी पकड़ती हैं। अर्थव्यवस्था को लेकर भी मेरा ऐसा ही मानना है। जब भारत की बात आती है तो मैं उम्मीद कर रहा हूं कि दूसरी छमाही शानदार रहेगी। मैं एक महान पारी की उम्मीद कर रहा हूं।

करण ने कहा कि गिलास को आधे खाली के रूप में देखने की जगह, इसे आधा भरा होने के रूप में देखा जाना चाहिए। यहां अर्थव्यवस्था के बारे में बहुत सी नकारात्मक और निराशावादी बातें की जा रही हैं, जबकि यूरोप में लोग यह उम्मीद कर रहे हैं… उनकी आर्थिक वृद्धि स्थिर और नकारात्मक नहीं है।

बता दें कि अर्थव्यवस्था को लेकर मोदी सरकार इन दिनों विपक्ष के साथ-साथ अपनों के भी निशाने पर है। पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा और अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे अरुण शौरी ने नोटबंदी, जीएसटी और अर्थव्यवस्था को लेकर मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here