मंत्री पद से हटाए जाने के बाद अरविंद केजरीवाल के खिलाफ कपिल मिश्रा ने बुलंद की आवाज

0

जल मंत्री रहते हुए अपने पद से अयोग्य करार दिए जाने के बाद केजरीवाल सरकार से कपिल मिश्रा को हटा दिया गया। बताया जा रहा है कि दिल्ली नगर निगम चुनाव के दौरान दिल्ली में पानी की सप्लाई की जबरदस्त समस्या पैदा हुई, जिसे संभालने में कपिल मिश्रा नाकाम रहे और पार्टी को चुनाव में भारी नुकसान हुआ।

कपिल मिश्रा

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने फैसले की जानकारी देते हुए कहा है कि जल प्रबंधन का काम ठीक से नहीं हो रहा था ।पद से हटाए जाने के बाद कपिल मिश्रा ने ट्विट कर भ्रष्टाचार के खिलाफ खुली जंग का ऐलान कर दिया और लगातार कई ट्वीट कर अपनी सफाई पेश की।

मिश्रा ने पीटीआई से कहा, मुझे इस फैसले के बारे में सूचित नहीं किया गया था और मेरी जानकारी के अनुसार, यह फैसला केजरीवाल ने एकजुट होकर लिया है। मंत्रिमंडल और राजनीतिक मामलों की समिति, ‘आप’ की शीर्ष निर्णय लेने वाली संस्था इसमें शामिल नहीं थी।

उसके बाद उन्होंने ट्विटर पर अपने नेता के बारे में और भी अधिक कठोर टिप्पणियां की। केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के खिलाफ छुपे तौर पर मिश्रा ने लिखा, किसी बेटी रिश्तेदार को पद नही दिया। शीला का भ्रष्टाचार खोला।

इसके अलावा मिश्रा ने कहा कि मैं इस पार्टी से जुड़ा रहूंगा, औरी कहीं नहीं जाएगें यहीं रहकर झाड़ू चलाएगें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here