शाहीन बाग इलाके में फायरिंग करने वाले शख्स को दिल्ली की अदालत ने जमानत दी

0

दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में नए नागरिकता कानून को लेकर चल रहे प्रदर्शन के बीच गोली चलाने वाले व्यक्ति कपिल बैंसला को दिल्ली की एक अदालत ने जमानत दे दी। पुलिस और आरोपी की ओर से पेश वकीलों की दलीलें सुनने के बाद अदालत ने शुक्रवार को बैंसला को जमानत दे दी।

शाहीन बाग
फोटो: सोशल मीडिया

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश गुलशन कुमार ने कहा, ‘‘सभी तथ्यों और परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए, आरोपी कपिल बैंसला को 25,000 रुपये की जमानत बांड और इतनी ही राशि की प्रतिभूति जमा करने पर जमानत दी जाती है।’’ बैंसला के वकील ने अदालत से कहा कि उनके मुवक्किल की समाज में गहरी पैठ है और उनके फरार होने की कोई आशंका नहीं है। इसमें यह भी कहा कि उनके खिलाफ पहले कोई मामला दर्ज नहीं है।

आवेदन में आगे कहा गया कि आवेदक पर उनकी पत्नी और नाबालिग बच्चे की जिम्मेदारी है और उन्हें न्यायिक हिरासत में रखने से कोई उद्देश्य नहीं सध रहा है। पुलिस ने जमानत याचिका का विरोध किया। उसने कहा कि बैंसला के खिलाफ आरोप गंभीर प्रकृति के हैं और मामला शुरुआती चरण में है।

बता दें कि, कपिल बैंसला ने बीते एक फरवरी को शाहीन बाग पहुंचकर प्रदर्शन स्थल के पास अचानक पिस्टल निकालकर हवा में फायरिंग की थी। गोली चलते ही यहां हड़कंप मच गया था। हालांकि, मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों और प्रदर्शनकारियों ने उसे दबोच लिया था। पुलिस द्वारा पकड़े जाने पर बैंसला ने ‘जय श्री राम’ का नारा लगाया था और कहा था, ‘‘हमारे देश में और किसी की नहीं चलेगी, सिर्फ हिंदुओं की चलेगी।’’

बता दें कि, दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन्स (NRC) के खिलाफ सैकड़ों महिलाएं पिछले 15 दिसंबर से प्रदर्शन कर रही हैं। यहां करीब दो महीने से भी ज्यादा समय से प्रदर्शन चल रहा है। इस प्रदर्शन के चलते नोएडा को दिल्ली से जोड़ने वाली राह कालिंदी कुंज बंद पड़ा है। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here