आंधी-तूफान से भारी तबाही: सिर्फ गुजरात को दिया मुआवजा तो पीएम मोदी पर भड़के सीएम कमलनाथ, फिर PMO को करना पड़ा यह ऐलान

0

देश के कई राज्यों में आंधी-बारिश से तबाही पर केंद्र की मोदी सरकार द्वारा जारी मुआवजे को लेकर सियासत गरमा गई है। गुजरात, मध्य प्रदेश और राजस्थान समेत देश भर के कई हिस्सों में आंधी-तूफान और बेमौसम भारी बारिश और ओलावृष्टि ने कहर बरपाया है। देश के विभिन्न हिस्सों में इसके कारण 25 से अधिक लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए। कई जगहों पर पेड़ गिर गए और बिजली के खंभे उखड़ गए। फसलों को भी असमय बारिश और ओलावृष्टि से काफी नुकसान पहुंचा है।

पीएम मोदी से मुलाकात करते सीएम कमलनाथ। फाइल फोटो

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में आंधी-तूफान और बेमौसम बारिश से लोगों की मौत होने पर दुख जताया है। पीएम मोदी ने बुधवार को ट्वीट कर कहा, ‘‘गुजरात के विभिन्न हिस्सों में आंधी-तूफान और बेमौसम बारिश से कई लोगों की मौत पर दुखी हूं। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। प्रशासन स्थिति पर लगातार नजर रखे हुए है। प्रभावितों को हर संभव मदद मुहैया कराई जा रही है।’’

प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात के अलग-अलग हिस्सों में भारी बारिश और तूफान में मारे गए लोगों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की है। पहले ट्वीट में प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा, ‘पीएम मोदी ने गुजरात के विभिन्न हिस्सों में बेमौसम बारिश और तूफान के कारण जान गंवाने वालों के परिजन के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की मंजूरी दी है। इसके अलावा घायलों को 50-50 हजार रुपये के मुआवजे का भी ऐलान किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गुजरात में बेमौसम बारिश और तूफान से हताहत लोगों तक हरसंभव मदद पहुंचाने के प्रयासों संबंधित ट्वीट किए जाने के बाद मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा है कि मध्य प्रदेश में भी इससे लोग प्रभावित हैं और प्रधानमंत्री की संवेदनाएं सिर्फ गुजरात के लोगों तक ही क्यों सीमित हैं। प्रधानमंत्री के ऐलान के बाद कमलनाथ ने उन पर निशाना साधा और मध्‍य प्रदेश के लोगों के साथ भेदभाव का आरोप लगाया।

कमलनाथ ने अपने ट्वीट में मोदी को संबोधित करते हुए कहा, “आप देश के प्रधानमंत्री हैं ना कि गुजरात के। एमपी में भी बेमौसम बारिश और तूफ़ान के कारण आकाशीय बिजली गिरने से 10 से अधिक लोगों की मौत हुई है, लेकिन आपकी संवेदनाएं सिर्फ गुजरात तक सीमित क्यों हैं।” उन्होंने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि भले यहां आपकी पार्टी की सरकार नहीं है, लेकिन लोग यहां भी बसते हैं।

हालांकि, इस मुद्दे पर विवाद होने के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से अन्य राज्यों के लिए भी मुआवजे का ऐलान किया गया। गुजरात को मुआवजे के ऐलान के बाद करीब दो घंटे बाद पीएमओ ने ट्वीट कर बताया कि पीएम मोदी ने मध्य प्रदेश, राजस्थान, मणिपुर और देश के अन्य हिस्सों में भारी आंधी-बारिश के कारण हुई मौतों पर दुख जताया है। पीएमओ ने ट्वीट में बताया कि पीएम मोदी ने देश के विभिन्न हिस्सों में आंधी-तूफान में मारे गए लोगों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये मुआवजे का ऐलान किया है।

मध्य प्रदेश में बारिशजनित हादसों और बिजली गिरने जैसी घटनाओं के चलते विभिन्न स्थानों पर कम से कम 10 लोगों की मौत की खबरें हैं। हालांकि, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 16 लोगों की मौत हुई है। कई जगह पर ओले पड़ने से खेतों में फसल भी खराब हो गई है। बारिश से हजारों क्विंटल गेहूं भीग गया। कुछ ऐसा ही हाल राज्‍य के कुछ अन्‍य जिलों में भी रहा।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here