2019 का इंतजार तो 11+ पार्टियों के लालची नेता कर रहे है, लेकिन मोदी जी को रोक पाना नामुमकिन है!, अपने इस ट्वीट पर ट्रोल हुए कैलाश विजयवर्गीय

0

लोकसभा चुनाव से पहले सभी राजनीतिक पार्टियाँ अपने-अपने तरीके से तैयारियों में जुट गई है। एक तरफ मोदी सरकार अपनी सत्ता बचाने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है, जबकि दूसरी तरफ महागठबंधन चुनौती पेश कर रहा है। इसी बीच, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने एक ट्वीट कर महागठबंधन पर निशाना साधा। हांलाकी, अपने इस ट्वीट को लेकर वो खुद सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए। यूजर्स उन्हें जमकर ट्रोल कर रहें है।

कैलाश विजयवर्गीय
फाइल फोटो: कैलाश विजयवर्गीय

दरअसल, बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर लिखा, “2019 का इंतजार तो 11+ पार्टियों के लालची नेता कर रहे है….. लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को रोक पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है!”हांलाकी, कैलाश विजयवर्गीय अपने इस ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए।

एक यूजर ने लिखा, “चचा ओवर कॉन्फिडेंट में अक्सर बड़े जहाज डूब जाते हैं, पब्लिक की नब्ज नहीं पकड़ पा रहे हो इस बार…गलत फैसलों पर मंथन करो अगर देश का और अपना भला चाहते हो तो।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “फिल्में बहुत देखते हो। जनता ने फिल्मी डायलॉग के लिए नही काम करने के लिए चुना है। काम करो चुप चाप।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “डायलॉग अच्छा है, मगर यह काम डायलॉग मारने से नही, बल्कि प्रदेश स्तरों पर जनता की शिकायते सुलझाने से होगा। अकेले मोदी जी के कन्धो पर कब तक बन्दूक रखकर चलाओगे, ध्यान रहे! खाली ट्वीटर से चुनाव नही जीते जाते हैं मघ्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ छोटे उदाहरण हैं। अब लोगो की छोटी-छोटी शिकायतें सुनो और हल करे।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “अगर मोदी जी को 2019 में जीत का इतना ही भरोसा होता तो बिहार में कम से कम 22 सीटों पर चुनाव लड़ते जो वर्तमान में उनकी सीट है, न कि 17 सीटों पर। रामविलास पासवान के दबाव में कभी नहीं आते।” बता दें कि इसी तरह तमाम यूजर्स कैलाश विजयवर्गीय के इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहें है।

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here