BJP में शामिल होने के बाद बोले ज्योतिरादित्य सिंधिया, कांग्रेस पहले जैसी पार्टी नहीं रही

0

कांग्रेस से इस्तीफा देने के एक दिन बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार (11 मार्च) को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय पर पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ली। भाजपा में शामिल होने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कमलनाथ सरकार पर भ्रष्टाचार और वादाखिलाफी के आरोप लगाए।

भाजपा में शामिल होने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, मेरे जीवन में दो दिन ऐसे आए, जिन्होंने मेरा जीवन बदल दिया। पहला 30 सितंबर 2001, जिस दिन मैंने अपने पिता को खोया। दूसरी तारीख 10 मार्च 2020, जो उनकी 75वीं वर्षगांठ थी। मेरा मानना है कि हमारा उद्देश्य जनसेवा होना चाहिए। मेरे पिताजी और मैंने हमेशा इसी पर काम किया।

उन्होंने आगे कहा कि, मेरा मन बहुत व्यथित है। कांग्रेस अब वह पार्टी नहीं है, जिसकी स्थापना हुई थी। कर्जमाफी और रोजगार के मामले पर मध्य प्रदेश सरकार ने अपने वादे पूरे नहीं किए। ट्रांसफर और भ्रष्टाचार का माफिया मध्य प्रदेश में चल रहा है।

बता दें कि, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद सिंधिया खेमे के 22 कांग्रेस विधायकों ने इस्तीफा दे दिया जिससे प्रदेश में कमलनाथ के नेतृत्व वाली 15 महीने पुरानी कांग्रेस सरकार गिरने के कगार पर पहुंच गई है।

उन्होंने पीएम मोदी और अमित शाह से मुलाकात के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा देते हुए कहा था कि वह कांग्रेस में रहते हुए अपने राज्य और देश की सेवा नहीं कर पा रहे हैं और अब उनके लिए आगे बढ़ने का मौका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here