ज्योतिरादित्य सिंधिया बोले- सचिन पायलट को किनारे लगाया जा रहा, कांग्रेस में प्रतिभा व क्षमता का कोई स्थान नहीं

0

गुटबाजी के चलते राजस्थान में अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार पर मंडरा रहे खतरे के बादलों के बीच भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को अपनी पुरानी पार्टी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में प्रतिभा व क्षमता का कोई स्थान नहीं रहा। सिंधिया ने अपने ट्वीट में दावा किया कि राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा ‘‘किनारे’’ लगाया जा रहा है और उन्हें ‘‘परेशान’’ किया जा रहा है।

सचिन पायलट
फाइल फोटो: सोशल मीडिया

पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट कर कहा, ‘‘यह देखकर दुख हो रहा है कि मेरे पूर्व सहयोगी सचिन पायलट को भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा किनारे लगाया जा रहा है और उन्हें परेशान किया जा रहा है। यह दर्शाता है कि कांग्रेस में प्रतिभा व क्षमता का कोई स्थान नहीं है।’’

बता दें कि, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कुछ माह पूर्व ही कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया था। उनका आरोप था कि मध्य प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता उन्हें अलग-थलग कर रहे थे। सिंधिया के साथ कांग्रेस के 20 से अधिक विधायकों ने भी भाजपा का दामन थाम लिया था, जिसके चलते मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार गिर गई थी। बाद में सिंधिया के सहयोग से राज्य में भाजपा ने अपनी सरकार बनाई और शिवराज सिंह चौहान फिर से प्रदेश के मुख्यमंत्री बने।

कहा जा रहा है कि राजस्थान में सचिन पायलट भी वैसी ही परिस्थितियों से गुजर रहे हैं, जिसका सामना ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कथित तौर पर किया था। राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार पर संकट और गहरा गया है। सूत्रों के हवाले से खबर मिल रही है कि सचिन पायलट दिल्ली में हैं और वह भाजपा के नेताओं के संपर्क में है।

वहीं सचिन पायलट ने भी संकेत दिए हैं कि वह भाजपा में नहीं जाएंगे लेकिन अपनी नई पार्टी जरूर बना सकते हैं। विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में सचिन पायलट को पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया गया है, जिससे वह नाराज हैं। (इंपुट: भाषा के सात)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here