कनाडाई PM जस्टिन ट्रूडो ने परिवार सहित स्वर्ण मंदिर में टेका मत्था, CM अमरिंदर सिंह से की मुलाकात

0

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने बुधवार (21 फरवरी) को अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ स्वर्ण मंदिर में मत्था टेका, और कनाडा में बड़े पैमाने पर बसे सिख और पंजाबी समुदाय की महत्ता को रेखांकित किया। टड्रो अपने परिवार सहित मुंबई से यहां श्री गुरु राम दासजी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पहुंचे और वहां से सीधे स्वर्ण मंदिर पहुंचे। सफेद रंग का कुर्ता पहने और सिर पर केसरिया रंग का सिरोपा बांधे ट्रूडो ने स्वर्ण मंदिर परिसर में अपनी पत्नी सोफी के साथ प्रवेश किया। सोफी ने फिरोजी रंग का कुर्ता और उनके बच्चों ने भारतीय पारंपरिक परिधान पहन रखे थे।समाचार एजेंसी IANS की रिपोर्ट के मुताबिक ट्रूडो परिवार के सदस्य अपने सिर ढके हुए थे। कनाडा के प्रधानमंत्री के सिखों के पवित्र परिसर में प्रवेश के साथ ही ‘बोले सो निहाल सत श्री अकाल’ के नारे गूंजने लगे। टड्रो और उनके परिवार के सदस्य सबसे पहले लंगर कक्ष गए, जहां हजारों की संख्या में श्रद्धालु लंगर और सेवा में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे थे। स्वर्ण मंदिर का लंगर कक्ष दुनिया की सबसे बड़ी सामुदायिक रसोई है।

ट्रूडो और उनका परिवार लंगर कक्ष में छोटे से स्टूल पर बैठ गया और फिर उन्होंने आटा गूंधा और रोटियां बेली। कनाडा के प्रधानमंत्री ने सूर्य की रोशनी में नहाए और चमचमाते स्वर्ण मंदिर में प्रवेश से पहले परिक्रमा भी की। परिवार ने गुरु ग्रंथ साहिब के समक्ष मत्था टेका। गुरु ग्रंथ साहिब सिखों की पवित्र पुस्तक है, जिसे एक जिंदा गुरु के रूप में माना जाता है। ट्रूडो परिवार को स्वर्ण मंदिर के मुख्य ग्रंथी ने सिरोपा (पारंपरिक सम्मान वस्त्र) भेट किया।

टड्रो का यह दौरा कनाडा के लिए राजनीतिक और सामाजिक महत्व रखता है, क्योंकि देश में बड़ी संख्या में भारतीय प्रवासी हैं, जिसमें से अधिकांश पंजाब के रहने वाले हैं। टड्रो के साथ कनाडा के संघीय मंत्री हरजीत सिंह सज्जन और अमरजीत बैंस भी आए हुए हैं। उन्होंने स्थानीय अधिकारियों से प्रधानमंत्री और उनके परिवार को उनके दौरे के दौरान स्वर्ण मंदिर के आध्यात्मिक आनंद से परिचय कराने को कहा है।

स्वर्ण मंदिर में प्रवेश पर उनका स्वागत शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष गोबिंद सिंह लोंगोवाल, शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल और केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने किया। इससे पहले हवाईअड्डे पर केंद्रीय आवास एवं शहरी विकास राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी और पंजाब के पर्यटन मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने उनका स्वागत किया था। टड्रो की यात्रा के मद्देनजर इस पवित्र शहर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

पीएम ट्रुडो से मिले पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह

वहीं कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडो वहां के रक्षा मंत्री हरिजीत सज्जन के साथ बुधवार को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिले। दोनों की बैठक गर्मजोशी के साथ हाथ मिलाने से शुरू हुई और करीब आधे घंटे तक चली। इससे पहले, अमरिंदर सिंह जस्टिन ट्रुडो से मिलने से इनकार करते हुए यह दावा किया था कि कनाडा के प्रधानमंत्री के कैबिनेट सदस्य खालिस्तान का समर्थन करते हैं।

गौरतलब है कि पिछले साल अप्रैल में कनाडा के रक्षा मंत्री हरजीत सिंह सज्जान की भारत यात्रा के दौरान कनाडा के सांसद को अमरिंदर सिंह ने खालिस्तान से सहानुभूति रखनेवाला बताया था। पंजाब के मुख्यमंत्री को ऐसा लगा कि सज्जन खालिस्तान के बनाने की वकालत कर रहे हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here