उन्नाव और कठुआ गैंगरेप के विरोध में इंडिया गेट पर राहुल गांधी का कैंडल मार्च, प्रियंका गांधी भी हुईं शामिल

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार (12 अप्रैल) को उत्तर प्रदेश के उन्नाव रेप मामले और जम्मू-कश्मीर के कठुआ में 8 साल की नन्ही बच्ची से गैंगरेप और उसकी नृशंस हत्या के विरोध नई दिल्ली के इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकाला।

राहुल गांधी

कैंडल मार्च में राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी और उनके पति रॉबर्ट वाड्रा भी मार्च में शामिल हुए हैं। 11 बजे से कांग्रेस के बाकी नेताओं ने मार्च करना शुरू कर दिया था और 12 बजे तक राहुल गांधी भी मार्च में शामिल हुए। उनके अलावा कांग्रेस पार्टी के कई बड़े नेता भी कैंडल मार्च में शामिल हैं।

कठुआ और उन्नाव मामले को लेकर लोगों में आक्रोश

गौरतलब है कि बकरवाल मुस्लिम समुदाय की बच्ची जम्मू कश्मीर के कठुआ में रासना गांव स्थित अपने घर के पास से 10 जनवरी को लापता हो गई थी। एक हफ्ते बाद 17 जनवरी उसी इलाके में उसका शव मिला था। घटना की जांच के लिए गठित एक विशेष जांच टीम (एसआईटी) ने दो विशेष पुलिस अधिकारियों (एसपीओ) और एक हेड कांस्टेबल सहित आठ लोगों को गिरफ्तार किया है।

चार्जशीट की मानें तो आरोपियों की बर्बरता हैरान करने वाली है। चार्जशीट में यह बात भी सामने आई है कि वारदात के मास्टरमाइंड रिटायर्ड राजस्व अधिकारी संजी राम ने बकरवाल समुदाय के मुसलमानों को इलाके से बाहर खदेड़ने के लिए इस घिनौने अपराध के लिए अपने भतीजे और अन्य आरोपियों को उकसाया था।

वहीं उत्तर प्रदेश के उन्नाव में बीजेपी विधायक और अन्य पर लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने का आरोप है। अपने साथ हुए अपराध के मुद्दे को उठाने के लिए लड़की ने मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्महत्या की कोशिश की। जिसके बाद उसके पिता को पुलिस ने उठा लिया।

आरोप है कि उनकी बर्बर तरीके से पिटाई की गई और हिरासत में ही उनकी मौत हो गई। इस मामले में उन्नाव जिले की बांगरमऊ विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर दुष्कर्म सहित अन्य संगीन आरोपों व पीड़िता के पिता की हत्या की जांच सीबीआई करेगी।

वहीं पुलिस ने बुधवार (11 अप्रैल) देर रात विधायक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। बता दें कि इन दोनों घटनाओं के सामने आने के बाद देश में 2012 के निर्भया मामले जैसी बहस छिड़ गई है। उस समय भी दिल्ली में बड़ी संख्याक में लोगों ने तत्कालीन सरकार के खिलाफ मार्च किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here