गुरुग्राम गोलीकांड: जज की पत्नी के बाद अब इलाज के दौरान घायल बेटे की भी हुई मौत, गनर ने मारी थी गोली

0

गुरुग्राम में शनिवार (13 अक्टूबर) को एक अतिरिक्त जिला न्यायाधीश की पत्नी और बेटे को कथित रूप से उनके ही सिक्योरिटी गार्ड ने सरेआम गोली मार दी। जज कृष्ण कांत शर्मा के गनर की गोली से घायल हुईं उनकी पत्नी रितु और बेटे धुव्र ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। दोनों का मेदांता अस्पताल में इलाज चल रहा था। रिपोर्ट के मुताबिक सोमवार को हिसार में दोनों का अंतिम संस्कार होगा।

आपको बता दें कि गोली लगने के बाद घायल मां-बेटे का इलाज मेदांता अस्पताल में चल रहा था, जहां शनिवार रात करीब 11:30 बजे जज की पत्नी की मौत हो गई। वहीं, गोली लगने के बाद गंभीर रूप से घायल बेटे का इलाज चल रहा था, जहां रविवार दोपहर उसकी भी मौत हो गई। मृतक मां-बेटे का अंतिम संस्कार सोमवार को हिसार में किया जाएगा। वहीं गुरुग्राम कोर्ट ने आरोपी गनर महिपाल को 4 दिन के लिए पुलिस की कस्टडी में भेजा दिया है।

मिलेनियम सिटी गुरुग्राम के सेक्टर-49 स्थित आर्केडिया मार्केट में शनिवार की शाम अतिरिक्त सत्र एवं न्यायाधीश (एडीजे) के आरोपी गनमैन ने उनकी पत्नी और बेटे पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इसमें एडीजे की पत्नी को दो और बेटे को तीन गोलियां जा लगीं। दोनों वहीं सड़क के किनारे फुटपाथ पर जमीन पर गिर पड़े। पत्नी और बेटे को गोली मारने के बाद आरोपी गनमैन गाड़ी को लेकर भाग निकला।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि प्राथमिक रिपोर्ट में कहा गया कि सिक्योरिटी गार्ड महिपाल सिंह ने महिला और उनके बेटे पर गोली चलाई। हम कारणों का पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं। वहां से गुजर रहे एक व्यक्ति द्वारा बनाई गई वीडियो में वर्दी पहने एक संदिग्ध हमलावर न्यायाधीश के बेटे को खींचकर एक गाड़ी में बिठाने का प्रयास कर रहा है लेकिन जब वह ऐसा नहीं कर सका तो वह घटनास्थल से फरार हो गया।

घायलों की पहचान अतिरिक्त जिला न्यायाधीश श्रीकांत की 38 वर्षीय पत्नी रितु और 18 वर्षीय बेटे ध्रुव के रूप में हुई है।न्यायाधीश की पत्नी और बेटे को गोली मारने के बाद गनमैन महिपाल को गिरफ्तार कर लिया गया था। वह जज के गनमैन के रूप में 1.5 साल तक काम कर रहा था। बेटे की हालत अभी भी नाजुक बनी हुई है।

पुलिस ने कहा कि घटना करीब साढ़े तीन बजे की है जब अतिरिक्त न्यायाधीश कृष्णकांत की पत्नी रितु और बेटा ध्रुव आर्केडिया बाजार में खरीदारी के लिए गए थे। उनके साथ न्यायाधीश का सुरक्षा कर्मी महिपाल था। हमले के बाद घायलों को मेदांता अस्पताल ले जाया गया जहां रविवार सुबह रितु ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here