उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौसले बुलंद, बलरामपुर में पत्रकार और उसके साथी की जिंदा जलाकर हत्या

0

उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौसले कितने बुलंद है, उसका अंदाजा आप इसी ख़बर से लगा सकते है। प्रदेश के बलरामपुर में दबंगों ने घर में मौजूद पत्रकार को साथी समेत जिंदा जला दिया। पत्रकार ने अस्पताल में मौत से पहले दिए गए बयान में दबंगों पर जलाने का आरोप लगाया है। पत्रकार के पिता ने भी दबंगों पर घर में घुसकर उनके बेटे और उसके साथी पर बम से हमला किए जाने का आरोप लगाया है। पुलिस तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

उत्तर प्रदेश
फोटो: सोशल मीडिया

पुलिस अधीक्षक (एसपी) बलरामपुर देवरंजन वर्मा ने बताया कि कलवारी गांव निवासी पत्रकार राकेश सिंह निर्भीक व उनके साथी पिंटू साहू की कमरे में जलने से मौत हुई है। घटना संदिग्ध है। पूरे मामले की गहराई से छानबीन की जा रही है। तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इन तीनों में एक वर्तमान और एक पूर्व प्रधान शामिल हैं। शीघ्र ही घटना के कारणों का खुलासा कर दिया जाएगा।

स्थानीय लोगों के अनुसार, देहात क्षेत्र के कलवारी निवासी राकेश सिंह निर्भीक अपने दोस्त कोतवाली नगर के विशुनीपुर निवासी पिंटू साहू के साथ बेडरूम में सोए थे। शुक्रवार देर रात करीब 11 बजे लोगों ने उनके मकान में आग की लपटें देखीं। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पिंटू साहू का पूरा शरीर राख हो चुका था। राकेश आग की लपटों से पूरी तरह घिरे थे। धमाके से कमरे की दीवार ढह चुकी थी। राकेश किसी तरह बाहर निकल आए, उनका शरीर 90 प्रतिशत जल चुका था।

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची दमकल से किसी तरह आग बुझाई गई। राकेश को इलाज के लिए लखनऊ केजीएमयू रेफर कर दिया गया। वहां इलाज के दौरान शनिवार सुबह उनकी मौत हो गई। डीआईजी, डीएम व एसपी ने घटना स्थल का जायजा लिया। मौके पर फॉरेंसिक टीम ने जांच की है। राकेश के पिता मुन्ना सिंह का कहना है कि शुक्रवार रात पीछे के रास्ते घर में घुसकर कुछ लोगों ने कमरे में बम फेंका था, जिससे राकेश व उनके दोस्त पिंटू की झुलसकर मौत हुई है। (इंपुट: आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here