झारखंड से तेलंगाना ले जाए जा रहे सभी 84 बच्चों को ट्रेन से बरामद कर पुलिस ने परिजनों को सौंपा

0

ट्रेन से तेलंगाना ले जाए जा रहे झारखंड के 84 बच्चों को बरामद कर सही सलामत बोकारो प्रशासन ने उनके परिजनों के हवाले कर दिया है। बता दें कि गुरुवार को प्रशासन ने झारखंड से तेलंगाना ले जाए जा रहे इन सभी बच्चों को राज्य और रेलवे पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई में बोकारो रेलवे स्टेशन पर धनबाद एलेप्पी एक्सप्रेस से सभी उतारा था। बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) को रांची खुफिया विभाग से बाल तस्करी की सूचना मिली थी। इसके बाद सीडब्ल्यूसी, बालीडीह, आरपीएफ और जीआरपी ने संयुक्त कार्रवाई कर ट्रेन से बच्चों को बरामद किया।

File Photo: Indian Express

‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में संयुक्त कार्रवाई में शामिल बालीडीह थाना इंस्पेक्टर कमल किशोर और जीआरपी थाना इंस्पेक्टर एडब्ड टोप्पो ने बताया कि बरामद किए गए सभी बच्चे छह से आठ और कुछ 18 वर्ष के भी थे। उन्होंन बताया कि फिलहाल सभी बच्चे अपने-अपने घर पहुंच गए हैं। इस संयुक्त कार्रवाई में बालीडीह थाना इंस्पेक्टर कमल किशोर और जीआरपी थाना इंस्पेक्टर एडब्ड टोप्पो के अलावा आरपीएफ ओसी आरके सिंह, एसएमआर पीके सिन्हा सहित अन्य पुलिस बल शामिल थे।

फिलहाल शुरुआती जांच के दौरान पूछताछ में पता चला कि इन बच्चों को पढ़ाई के नाम पर तेलंगाना ले जाया जा रहा था। बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष विनय कुमार जोगी ने बताया कि रांची पुलिस ने बोकारो पुलिस को बच्चों को तेलंगाना ले जाने की सूचना दी थी। इसी सूचना के आधार पर बोकारो के बालीडीह पुलिस और बाल कल्याण समिति की संयुक्त कार्रवाई में बच्चों को बरामद किया गया। बच्चों को धनबाद में ट्रेन पर सवार कर तेलंगाना ले जाया जा रहा था।

अपने-अपने घर गए सभी बच्चे

‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में बोकारों स्थित जीआरपी थाना इंस्पेक्टर एडब्ड टोप्पो ने बताया कि बाल कल्याण समिति के जरिए सभी 84 बच्चों को उनके परिजनों को सौंप दिया गया है। उन्होंने बताया कि इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। किसी बैठक के सिलसिले में थाने से बाहर होने की वजह से गिरफ्तार किए गए आरोपियों की विस्तृत जानकारी नहीं दे पाए।

वहीं इस पूरे मामले की जांच में शामिल बालीडीह थाना इंस्पेक्टर कमल किशोर ने भी ‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में इस बात की पुष्टि कि है कि सभी बच्चों को उनके अभिभावकों के हवाले कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि दरअसल यह मामला रेलवे पुलिस का है और इसकी जांच वहीं कर रहे हैं। किशोर ने कहा कि बोकारों पुलिस इस मामले में रेलवे प्रशासन को पूरा सहयोग कर रहा है। उन्होंने बताया कि बच्चों को छुड़ाने के दौरान संयुक्त कार्रवाई में वह भी शामिल थे।

झारखंड से तेलंगाना ले जाए जा रहे 84 बच्चों को ट्रेन से बरामद कर पुलिस ने परिजनों को सौंपा

तेलंगाना ले जाए जा रहे झारखंड के 84 बच्चों को ट्रेन से बरामद कर सही सलामत बोकारो प्रशासन ने उनके परिजनों के हवाले कर दिया है। पूरी खबर पढ़ने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करेंhttp://www.jantakareporter.com/hindi/jharkhand-kids-rescued-from-train-reach-home/198117/

Posted by जनता का रिपोर्टर on Tuesday, 17 July 2018

 

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here