जयपुर में दो बेटों और पत्नी संग आभूषण कारोबारी ने लगाई फांसी, कर्ज से था परेशान

0

राजस्थान की राजधानी जयपुर के कानोता थाना इलाके के जामडोली से सनसनीखेज मामला सामने आया है, यहां एक ही परिवार के 4 सदस्यों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या करने वालों में एक महिला, पुरुष और दो बच्चे शामिल है। बताया जा रहा है कि परिवार कर्ज के बोझ से दबा हुआ था और रोज-रोज कर्ज के पैसे मांगे जाने से बहुत परेशान था। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी है।

जयपुर

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मृतक परिवार ने महिला से कहा था कि दुकान और घर बेचने के बाद उसके पैसे वापस कर दिए जाएंगे। लेकिन रात को ही इस परिवार के चार सदस्यों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इनमें से तीन ने हॉल में जबकि चौथे ने कमरे में पंखे से फांसी लगाकर आत्महत्या की। फंदे पर लटके दो लोगों के पैर भी बंधे हैं। पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। मौके पर एफएसएल टीम को बुलाई गई है। हालांकि, मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

पुलिस ने बताया कि माता-पिता और दो बच्चों ने की सामूहिक आत्महत्या की है। परिवार के इन सदस्यों ने फंदा लगाकर आत्महत्या की है। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। जांच के लिए फॉरेंसिक टीम को भी बुलाया गया है। पुलिस के मुताबिक ज्वैलरी का काम करने वाला यह परिवार कर्ज के बोझ तले दबा हुआ था। यह परिवार कर्ज की वजह से परेशान चल रहा था क्योंकि ब्याज माफिया परिवार को प्रताड़ित कर रहा था।

बहरहाल, पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और मामले में आगे की जांच पड़ताल की जा रही है। पुलिस ने फिलहाल ब्याज माफिया को हिरासत में लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है। हिन्दुस्तान.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, मरने वालों में परिवार के मुखिया 45 वर्षीय सदासव देसाई, 41 वर्षीय उनकी पत्नी और 20 तथा 23 वर्ष के दो पुत्र शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here