सीएम नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान: बिहार के बाहर NDA का हिस्सा नहीं होगी JDU, 4 राज्यों में अकेले लड़ेगी विधानसभा चुनाव

0

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जनता दल यूनाइटेड (जदयू) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में रविवार को बड़ा फैसला लिया है। जदयू ने ऐलान किया है कि वह बिहार से बाहर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का हिस्सा नहीं रहेगी। जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में फैसला लिया गया है कि पार्टी आने वाले चार राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी।

Narendra Modi and Nitish Kumar (PTI File Photo)

जदयू ने ऐलान किया है कि जम्मू-कश्मीर, झारखंड, हरियाणा और दिल्ली में होने वाले आगामी चुनावों में पार्टी अकेले अपने दम पर लड़ेगी। यह फैसला रविवार को हुई राष्ट्रीय कार्यकारी की बैठक में हुआ। इसके अलावा बैठक में पार्टी का विस्तार करने और संगठन को मजबूत करने को लेकर चर्चा हुई।

नीतीश कुमार की अध्यक्षता में पटना में मुख्यमंत्री आवास पर हुई जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में एनडीए की विरोधी ममता बनर्जी के लिए चुनावी रणनीति बनाने का फैसला कर फिर से चर्चा में आए जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर भी मौजूद रहे। वहीं, पार्टी के वरिष्ठ नेता वशिष्ठ नारायण सिंह, प्रवक्ता केसी त्यागी, प्रदेश अध्यक्ष, जिलाध्यक्ष और अन्य कई नेताओं की भी उपस्थिति रही।

बता दें कि जदयू का यह बयान ऐसे वक्त में आया है, जब जदयू ने यह कहते हुए स्पष्ट कर दिया था कि वह मोदी सरकार का हिस्सा नहीं बनेगी, क्योंकि भाजपा ने उसे एक मंत्री पद का प्रस्ताव दिया था, जिसे वह स्वीकार नहीं कर सकती। भले ही जदयू और भाजपा राजग में सब कुछ सही बता रहे हैं, लेकिन केंद्र में नीतीश की पार्टी के भागीदारी से इनकार के बाद कयासों का दौर जारी है। भाजपा की सहयोगी पार्टी जनता दल यूनाइटेड मोदी मंत्रिपरिषद में शामिल हुई है। जदयू को मोदी मंत्रिपरिषद में एक स्थान मिल रहा था जो संभवत: राजग की सहयोगी पार्टी को मंजूर नहीं था।

इस घमासान के बीच इससे पहले हाल ही में जदयू के महासचिव और मुख्‍य प्रवक्‍ता केसी त्यागी ने साफ कहा था कि हमने फैसला किया है कि अब आगे भविष्य में कभी भी राजग के मंत्रिमंडल में शामिल नहीं होंगे। न्यूज एजेंसी एएनआई ने त्यागी के हवाले से लिखा था, ‘जो प्रस्ताव दिया गया था, वह जदयू को अस्वीकार्य था। इसलिए हमने तय किया है कि भविष्य में भी जदयू कभी भी राजग के नेतृत्व वाले केंद्रीय मंत्रिमंडल का हिस्सा नहीं होगी। यह हमारा फाइनल फैसला है।’

हालांकि, बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को एक बार फिर कहा कि मोदी सरकार में शामिल नहीं होने के बावजूद राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) पूरी तरह से एकजुट है और 2020 का राज्य विधानसभा चुनाव उनकी पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जदयू) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मिलकर लड़ेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here