जयललिता का सिमी ग्रेवाल के साथ एक पुराना इंटरव्‍यू जिसमें उन्‍होंने गाया अपना पसंदीदा गाना

0
Follow us on Google News

पिछले तीन दशकों से तमिलनाडु की राजनीति में महत्वपूर्ण सितारा रहकर अपनी शर्तों पर राजनीति करने वाली जयललिता का सोमवार रात निधन हो गया।

ब्राह्मण विरोधी मंच पर द्रविड़ आंदोलन के नेता अपने चिर प्रतिद्वंद्वी एम करुणानिधि से उनकी लंबी भिड़ंत हुई। राजनीति में 1982 में आने के बाद औपचारिक तौर पर उनकी शुरुआत तब हुई जब वह अन्नाद्रमुक में शामिल हुईं।

Photo courtesy: indian express

उनके निधन से पूरे राज्य में शोक की लहर छाई हुई है। लेकिन इसी बीच जयललिता का एक पुराना वीडियो इंटरव्यू सामने आया है। जिसमे वो अपना पसंदीदा गाना गाती दिख रहीं हैं।

https://www.youtube.com/watch?v=DzqLo_1SPZg

1999 में सिमि ग्रेवाल को दिए इस इंटरव्‍यू में जयललिता ने अपने बचपन से लेकर राजनीति के सफर तक की बात की राजनीति में आने से पहले जयललिता ने लंबे समय तक फिल्‍मों में काम किया और इसे लेकर उन्‍होंने इंटरव्‍यू में कहा कि मैं बहुत शर्मीली लड़की थी मैं फिल्मों में नहीं आना चाहती थी लेकिन किस्मत को यहीं मंजूर था।

ये भी पढ़े- फिल्मों से लेकर राजनीति तक का जयललिता का सफर, तमिलनाडु की राजनीति में लहराता रहा अम्मा का परचम

अपने स्‍कूल के दिनों को याद करते हुए उन्‍होंने कहा कि वो उनकी जिंदगी के सबसे खुशनुमा पल थे। इस दौरान उन्‍होंने क्रिकेटर नारी कॉन्‍ट्रेक्‍टर के अलावा अभिनेता शम्‍मी कपूर पर क्रश होने की बात भी कही।

ये भी पढ़े-लाखों चाहने वालों के बीच भी अकेली थी जयललिता, आखिरी समय में कोई भी परिवार का सदस्य नहीं था पास

सिमि ग्रेवाल के काफी कहने के बाद जयललिता ने इंटरव्‍यू के दौरान झिझकते हुए अपने पसंदीदा गाने ‘आ जा सनम मधुर चांदनी में हम’ गाकर सुनाया।

https://www.youtube.com/watch?v=Cf2bU9xD-3E

बता दें कि जया ने एमजीआर के साथ 28 फिल्‍में की थीं और उनके बारे बात करते हुए जया ने कहा कि एमजीआर मेरे माता,‍ पिता और फिलोसॉफर थे। लंबे और संघर्ष भरे राजनीतिक सफर के बीच जयललिता राज्‍य की भलाई और लोगों के लिए काम करती रहीं। उनका करिश्‍मा कुछ ऐसा था कि उन पर छोटी सी मुसीबत भी आती तो समर्थक सड़कों पर आ जाते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here