मॉनसून सत्र: महिलाओं की सुरक्षा पर बहस के दौरान केंद्रीय मंत्री पर भड़कीं जया बच्चन, पूछा- आप कठुआ की बात क्यों नहीं करते?

0

संसद में गुरुवार यानी आज 19 जुलाई 2018 को मॉनसून सत्र का दूसरा दिन है। मॉनसून सत्र के दूसरे दिन भी जोरदार हंगामा हुआ। सांसदों ने अपने-अपने मुद्दों को लेकर एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाए। देश भर में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध के मुद्दे पर समाजवादी पार्टी से राज्यसभा सांसद जया बच्चन के सख्त तेवर देखने को मिले। इस दौरान जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में 8 साल की नाबालिग मासूम बच्ची के साथ हुए गैंगरेप और हत्याकांड के मुद्दे पर जया बच्चन और केंद्रीय महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री वीरेंद्र कुमार के बीच तीखी बहस भी हुई।

File Photo

जया बच्चन ने कठुआ रेप केस में सरकार द्वारा ठीक से जवाब नहीं मिलने पर नाराजगी जताई। राज्यसभा में जया बच्चन ने कहा कि महिलाओं के लिए भारत दुनिया का सबसे असुरक्षित देश बन चुका है, इस पर सरकार क्या कहेगी? रॉयटर्स की रिपोर्ट का हवाला देते हुए उन्होंने सरकार से कठुआ केस की रिपोर्ट मांगी। जया बच्चन द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में बोलते हुए मंत्री वीरेंद्र सिंह ने रॉयटर्स की रिपोर्ट पर ही सवाल उठा दिया। साथ ही उन्होंने रिपोर्ट को भ्रामक बताया। इस पर जया बच्चन ने कड़ी प्रतिक्रिया दी।

दरअसल राज्यसभा में महिलाओं के खिलाफ अपराध पर चर्चा हो रही थी, केंद्रीय मंत्री वीरेंद्र कुमार ने कुछ आंकड़े सामने रखे तो जया बच्चन ने इस पर गहरी नाराजगी जताई। सांसद जया बच्चन ने थॉमसन रॉयटर्स की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि भारत को महिलाओं के लिए दुनिया का सबसे असुरक्षित देश घोषित किया गया है। पहले भारत सातवें पायदान पर था, लेकिन आज यह पहले स्थान पर है, जो काफी शर्मनाक है।

इस दौरान जया बच्चन ने कठुआ को लेकर केंद्रीय मंत्री पर जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने कहा कि आप यहां सिर्फ मध्य प्रदेश की बात करते हैं, लेकिन कठुआ पर क्यों चुप्पी साध लेते हैं। जया बच्चन ने रॉयटर्स की रिपोर्ट का हवाला देते हुए सरकार से कठुआ केस की रिपोर्ट मांगी। आज तक के मुताबिक जया ने कहा कि आप मध्य प्रदेश की बात करते हैं लेकिन कठुआ पर क्यों कुछ नहीं बोलते। यह एक अतंरराष्ट्रीय संगठन की रिपोर्ट है और आप कह रहे हैं कि पता नहीं है।

जया ने कहा कि आपके और संगठन के आंकड़े अलग कैसे हैं। विपक्षी नेताओं ने भी बहस में जया बच्चन का साथ दिया।मंत्री ने कहा कि पुलिस और कानून व्यवस्था राज्यों की जिम्मेदारी है और मध्य प्रदेश जैसे कुछ राज्यों ने इस पर अच्छा काम किया है। नवभारत टाइम्स के मुताबिक जया ने कहा कि आपने 2015 तक के आंकड़े दिए पर 2016, 2017, 2018 में जो कुछ भी हुआ, उसे आप भूल गए हैं। इस पर मंत्री ने कहा कि अभी इन वर्षों के आंकड़े नहीं आए हैं।

जया ने कहा कि लड़कियों की तस्करी के मामले तेजी से बढ़े हैं। उन्होंने सरकार से दो सवाल भी पूछे। उन्होंने कहा कि क्या आप कठुआ मामले की रिपोर्ट के बारे में विस्तार से जानकारी दे सकते हैं और क्या सरकार महिलाओं के खिलाफ अपराध पर संसद में श्वेत पत्र पेश करेगी। इस पर जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जिन आंकड़ों या रिपोर्ट की बात की जा रही है उसको लेकर भारत सरकार से कोई संपर्क नहीं किया गया था। उसका आधार क्या है, यह स्पष्ट नहीं है।

जया बच्चन ने मंत्री से पूछा कि आप क्या करेंगे? जया ने कहा कि यह एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है और आप कह रहे हैं कि आपको पता ही नहीं है। जया ने कहा कि मध्य प्रदेश से हर रोज ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं, आप वहां की बात कीजिए, कठुआ केस पर बात कीजिए। इस पर सदन में हंगामा शुरू हो गया। एक सदस्य ने कहा, ‘भारत का चेहरा गंदा किया गया है क्या करेंगे मंत्रीजी।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here