चुनाव से पहले वसुंधरा राजे को बड़ा झटका: BJP छोड़ने वाले वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र थामेंगे कांग्रेस का हाथ, लोकसभा का लड़ेंगे चुनाव

0

दिसंबर में होने वाले राजस्थान विधानसभा चुनाव से ठीक पहले राज्य में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को बड़ा झटका लगा है। पिछले दिनों बीजेपी से नाता तोड़ने वाले बाड़मेर जिले में शिव सीट से विधायक एवं पूर्व सांसद मानवेंद्र सिंह कांग्रेस से जुड़ने वाले हैं। आपको बता दें कि अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र ने 22 सितंबर को पार्टी से औपचारिक रूप से नाता तोड़ लिया था।

File Photo: The Hindu

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस के उच्च स्तर पर उन्हें कांग्रेस में लेने का फैसला हो चुका है। संभावना है कि 17 अक्टूबर को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में मानवेंद्र को कांग्रेस की सदस्यता दिलवाई जाएगी। आपको बता दें कि बीजेपी की वसुंधरा राजे सरकार के खिलाफ उन्होंने मोर्चा खोल रखा है। मानवेंद्र ने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में बाड़मेर चर्चा का विषय था और 2018 में भी हर कोई बाड़मेर की ओर देख रहा है।

आपको बता दें कि मानवेंद्र और बीजेपी के रिश्ते बीते चार साल से तल्ख बने हुए थे। इसकी शुरुआत 2014 के आम चुनाव में पार्टी द्वारा जसवंत सिंह जसोल को टिकट नहीं दिए जाने से हुई। फिर वह विधायक बने, लेकिन उन्हें मंत्री नहीं बनाया गया। अब उनकी सीट पर भी बीजेपी में औरों की दावेदारी भी चली तो उन्होंने बीजेपी छोड़ दी। आपको बता दें कि राजस्थान में सात दिसंबर को विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे मानवेंद्र का कांग्रेस में जाना बीजेपी के लिए मुश्किल खड़ी कर सकती है।

नवजीवन की रिपोर्ट के मुताबिक, मानवेंद्र ने रविवार को ऐलान किया कि वे 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि उनके साथ उनके परिवार के सभी लोग कांग्रेस का समर्थन करेंगे। लेकिन उनके पिता के कांग्रेस में शामिल होने पर उन्होंने कुछ नहीं कहा। पार्टी में उनके आने पर कांग्रेस के राजस्थान मामलों के महासचिव अविनाश पांडेय ने कहा कि, “सिर्फ मानवेंद्र सिंह ही नहीं, बल्कि दूसरे दलों के कई सारे वरिष्ठ नेता कांग्रेस के संपर्क में हैं और वे पार्टी में शामिल होना चाहते हैं।“

मानवेंद्र सिंह ने कांग्रेस में शामिल होने की तारीख का अभी ऐलान नहीं किया है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि वे 17 अक्टूबर को कांग्रेस की सदस्यता ले सकते हैं। क्या वे 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर उम्मीदवार होंगे, इस सवाल पर उन्होंने कहा कि इच्छा तो है। आपको बता दें कि बाड़मेर की राजनीति में जसवंत-मानवेंद्र का बड़ा दखल रहा है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here