ये राजनीति आपके बच्चों का इस्तेमाल करेगी और उन्हें हत्यारें में बदल देगी: रवीश कुमार

0

दिल्ली से मथुरा जा रही ईएमयू ट्रेन में मामूली विवाद के बाद गुरुवार(22 जून) को मारे गए हरियाणा के बल्लभगढ़ निवासी मुसलमान युवक जुनैद खान की हत्या के बाद से मुस्लिम समुदाय सहित हर धर्म के लोग गुस्से में हैं। भीड़ द्वारा लगातार हमले और हत्याओं को लेकर हर कोई अपने-अपने तरीके से विरोध दर्ज करा रहा है।

आज (28 जून) देश के कई शहरों में हजारों लोग सड़कों पर उतरकर सरकार के खिलाफ अपना विरोध दर्ज करा रहे हैं। दिल्ली में जंतर-मंतर पर शाम 6 बजे से कई हजारों की संख्या में हर समुदाय के लोग इस प्रदर्शन में शामिल हुए हैं। इस प्रदर्शन में भीड़ द्वारा जगह-जगह पीट-पीटकर की जा रही हत्याओं के खिलाफ आवाज उठाई जा रही है।

बता दें कि ‘नॉट इन माइ नेम’ शीर्षक से हो जा रहा यह प्रदर्शन दिल्ली के अलावा कोलकाता, हैदराबाद, तिरुवनंतपुरम और बेंगलुरु में भी हो रहा है। यह अभियान सोशल मीडिया पर आग की तरह फैल गया है। इस अभियान की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह विरोध-प्रदर्शन बिना किसी नेतृत्व का हो रहा है।

यह प्रदर्शन किसी भी पार्टी या संगठन के बैनर तले नहीं हो रहा है। जब ‘जनता का रिपोर्टर’ के प्रधान संपादक रिफत जावेद ने इस प्रदर्शन में शामिल लोगों से पूछा कि आप यहां क्यों आए है? तो इसके जवाब में लोगों ने बताया कि वह देश को तोड़ने वाली ताकतों के खिलाफ यहां जमा हुए है। बातचीत के दौरान लोगों ने बताया कि वह देश की एकता को इस तरह से खंडित नहीं होने देगें।

रवीश कुमार का निशाना

जंतर-मंतर पर इस प्रदर्शन के दौरान ‘जनता का रिपोर्टर’ के प्रधान संपादक रिफत जावेद की मुलाकात वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार से हो गई। जब रिफत जावेद ने रवीश कुमार से इस प्रदर्शन के बारे में जब पूछा तो उन्होंने कई घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि भीड़ ने ज्यादातर मुस्लिम समुदाय के लोगों को अपना निशाना बनाया है, लेकिन यह अब हर वर्ग के लोगों को अपना निशाना बना रही है।

झारखंड का उदाहरण देते हुए रवीश कुमार ने कहा कि भीड़ ने बच्चा चोरी का आरोप लगाते हुए चार युवकों को पीट-पीटकर हत्या कर दी। जबकि वहां मौजूद युवक के दादा जी भीड़ से गुजारिश करते रहे कि मेरा पोता हिंदू है, लेकिन लोगों ने उनकी एक भी नहीं सुनी और बच्चा चोर के अफवाह में भीड़ ने उन्हें मौत के घाट उतार दिया।

रवीश ने कहा कि आने वाले समय में स्कूल में दो बच्चों के बीच में क्रिकेट को लेकर झगड़ा होगा तो लोग उसके मन में यह भर देंगे कि सामने वाला बच्चा मुसलमान है और भीड़ उसकी पीट-पीटकर हत्या कर देगी। रवीश ने कहा कि मैं लोगों से कहना चाहता हूं कि ये राजनीति आपके बच्चों का इस्तेमाल करेंगी और उन्हें हत्यारे में बदल देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here