जम्मू-कश्मीर के हालात पर खतरे में BJP-PDP गठबंधन सरकार

0

जम्मू-कश्मीर के ताजा हालात पर ढाई साल पुरानी पीडीपी-बीजेपी गठबंधन सरकार में रार बढ़ती जा रही है। दरअसल, पीडीपी-बीजेपी सरकार राज्य में भीड़ की हिंसा, बढ़ते आतंकवाद और हाल में हुए श्रीनगर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में कम वोटिंग को लेकर इन दिनों सार्वजनिक व निजी दोनों ही रूप से एक-दूसरे के खिलाफ बयान दे रही हैं।

फाइल फोटो।

गठबंधन के बीच बढ़ती दरार के बीच बीच दोनों दलों ने शुक्रवार(21 अप्रैल) को बंद कमरे में बैठक की। यह बैठक ऐसे समय हुई है जब बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का कुछ दिन बाद राज्य का दौरा होने वाला है। राज्य में बिगड़ती स्थिति पर चर्चा के लिए बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव, उपाध्यक्ष अविनाश राय खन्ना और पीडीपी के मंत्री हसीब द्राबू के बीच बीजेपी मुख्यालय में 90 मिनट तक बैठक चली।

Also Read:  'प्यारी बेटी आसिफ़ा तुम्हारी रूह को सुकून मिले, हो सके तो हमें माफ़ करना, हम तुम्हें एक महफ़ूज़ वतन नहीं दे पाए, वाकई हम शर्मिंदा हैं'

खन्ना ने बाद में संवाददाताओं से कहा कि हमने जम्मू कश्मीर में स्थिति की समीक्षा के लिए चर्चा की। बीजेपी के मंत्री चंद्रप्रकाश गंगा के इस हालिया बयान से दोनों दलों के बीच तनाव बढ़ रहा है कि देशद्रोहियों और पत्थरबाजों से गोली से निपटा जाना चाहिए। इस टिप्पणी से नाराज पीडीपी ने कहा कि घाटी को अशांति में रखने के लिए ‘साजिश’ हो रही है।

Also Read:  #BHU_लाठीचार्ज: निजी कारणों का हवाला देकर छुट्टी पर गए BHU के VC गिरीश चंद्र त्रिपाठी

पीडीपी नेता पीरजादा मंसूर ने एक बयान में कहा कि ‘इस तरह की घृणित टिप्पणियां राज्य में कुछ नेताओं की न सिर्फ घृणित मानसिकता को दिखाती हैं, बल्कि कश्मीर में ताजा संकट पैदा करने के लिए कुछ तत्वों की बड़ी साजिश का भी खुलासा करती हैं, जिससे कि कश्मीरियों को लगातार शैक्षिक एवं आर्थिक पिछड़ेपन की तरफ ढकेला जा सके।

Also Read:  राज्यों को गृह मंत्रालय का आदेश- गुलदस्ते से नहीं, फूल से करें PM मोदी का स्वागत

पिछले कई दिन से कश्मीर में छात्रों और सुरक्षाबलों के बीच संघर्ष हो रहा है। छात्रों के विरोध प्रदर्शनों के चलते कश्मीर में आज चौथे दिन भी कॉलेजों में कक्षाएं ठप हैं। बीजेपी मुख्यालय में बैठक में बाद में पुलिस महानिदेशक एसपी वैद भी शामिल हुए। खन्ना ने कहा कि ‘हम 29 अप्रैल से हो रहे अमित शाह के दौरे के इंतजामों पर चर्चा करने के लिए यहां हैं।’

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here