‘जामिया के पास हुई गोलीबारी की घटना दिल्ली में चुनाव प्रचार के दौरान BJP नेताओं की ओर से दिए गए भड़काऊ बयान का नतीजा है’

0

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के महासचिव डी राजा ने गुरुवार (30 जनवरी) को जामिया मिल्लिया इस्लामिया के पास हुई गोलीबारी की घटना को दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेताओं द्वारा की कथित भड़काऊ टिप्पणियों का सीधा नतीजा करार दिया।

जामिया
फाइल फोटो: भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के महासचिव डी राजा

 

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, भाकपा महासचिव डी राजा ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया के पास हुई गोलीबारी की यह घटना राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि को हुई। उन्होंने कहा, ‘जामिया की घटना दिल्ली में चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा नेताओं की ओर से दिए गए भड़काऊ बयान का नतीजा है। भाजपा नेता अनुराग ठाकुर को भीड़ से गद्दारों को गोली मारने का आह्वान करने के लिए गिरफ्तार किया जाना चाहिए।’

गौरतलब है कि, गुरुवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया का छात्र उस समय घायल हो गया जब एक व्यक्ति ने प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाते हुए नारा लगाया कि ‘यह लो आजादी’। इसकी वजह से इलाके में अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर गोली चलाने वाले इस शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है। गोली चलाने वाले युवक की पहचान ‘राम भक्त गोपाल’ के रूप में हुई है और वह ग्रेटर नोएडा का रहने वाला है।

हमला करने से पहले युवक ने एक के बाद एक कई फेसबुक लाइव किए थे। इसमें एक फेसबुक पोस्ट में उसने लिखा था कि शाहीन बाग खेल खत्म। हमलावर के फेसबुक प्रोफाइल के बायो पर रामभक्त गोपाल नाम है हमारा, बायो में इतना काफी है। बाकी सही समय आने पर..जय श्री राम, लिखा है। जामिया प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाने वाला युवक बड़े पैमाने पर नरसंहार करना चाहता था। उसने शाहीन बाग को जलियांवाला बाग बनाने की कसम खाई थी।

निर्वाचन आयोग ने विवादास्पद टिप्पणियों के लिए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर को दिल्ली विधानसभा चुनाव में प्रचार से तीन दिन के लिए और सांसद प्रवेश वर्मा को चार दिन के लिए रोक दिया है। बता दें कि, दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों पर आठ फरवरी को मतदान होगा और 11 फरवरी को मतगणना होनी है। दिल्ली में मुख्य मुकाबला आम आदमी पार्टी (आप) और केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच है। हालांकि, कांग्रेस की स्थिति भी पिछले चुनाव के मुकाबले मज़बूत लग रही है।

"
"

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here