मानहानि मामला: अरुण जेटली ने केजरीवाल पर लगाया सुनवाई में देरी करने का आरोप, कोर्ट ने फरवरी तक स्थगित की सुनवाई

0

दिल्ली जिला एवं क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में कथित वित्तीय अनियमितता मामले में नाम घसीटे जाने पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत APP के 5 अन्य नेताओं पर मानहानि का मुकदमा करने वाले वित्त मंत्री अरुण जेटली ने हाई कोर्ट में केजरीवाल पर सुनवाई की प्रक्रिया में देरी करने का आरोप लगाया। केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाया कि वह उनके द्वारा आप नेताओं के खिलाफ दायर मानहानि वाद की सुनवाई में देरी कर रहे है।

अरुण जेटली

वित्त मंत्री के वकील ने कहा कि केजरीवाल के वकील द्वारा हाई कोर्ट में उनसे जिरह के दौरान गैरजरूरी सवाल पूछे जा रहे हैं। उन्होंने इस मामले में जल्द सुनवाई का अनुरोध किया।

जेटली की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता संदीप सेठी और अधिवक्ता माणिक डोगरा ने दिल्ली हाई कोर्ट के संयुक्त रजिस्ट्रार राकेश पंडित से कहा कि वे गैरजरूरी सवाल पूछ रहे हैं और अदालत का समय बर्बाद कर रहे हैं।

वे सुनवाई में देरी क्यों कर रहे हैं? हम जल्द से जल्द तारीख चाहते हैं क्योंकि केजरीवाल के वकील को जेटली से जिरह पूरी करने की कोई जल्दबाजी नहीं है।

भाषा की खबर के मुताबिक, वकीलों ने कहा कि नौवें दौर की पूछताछ के लिए अदालत में मौजूद रहे 64 साल के जेटली ने शांति से काम लिया और डेढ घंटे की सुनवाई के दौरान 26 सवालों के जवाब दिए।

जेटली ने आप नेताओं पर दस करोड़ रुपये दीवानी मानहानि वाद दायर किया है। केजरीवाल की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता अनूप जार्ज चौधरी और वकील अनुपम श्रीवास्तव ने कहा कि जल्द सुनवाई की कोई जरुरत नहीं है और अदालत को अन्य मामले की तरह इसमें तारीख देनी चाहिए।

इस पर अदालत ने कहा कि वह अगली तारीख पर इस संबंध में फैसला करेगी। अदालत ने जेटली से जिरह जारी रखने के लिए अगले साल दो, 12 और 13 फरवरी की तारीख तय की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here